scorecardresearch
 

निर्भया केस: फांसी के लिए जल्लाद को मिलेंगे हजारों, जेल में दोषियों ने की इतनी कमाई

फांसी देने वाले पवन जल्लाद को भी बुलाया जा रहा है और वह 20 जनवरी को ही तिहाड़ जेल पहुंच जाएगा. प्रशासन की ओर से चारों दोषियों से सजा काटने के दौरान जो कमाई की है, उसका भी आंकड़ा जारी किया है.

प्रतीकात्मक फोटो प्रतीकात्मक फोटो

  • निर्भया के दोषियों की फांसी की प्रक्रिया शुरू
  • तिहाड़ जेल में 22 जनवरी को दी जाएगी फांसी
  • 20 तारीख को ही पहुंच जाएगा जल्लाद

निर्भया के दोषियों को 22 जनवरी को दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी दी जानी है. सुप्रीम कोर्ट से दोषियों की क्यूरेटिव याचिका भी खारिज हो गई है, ऐसे में तिहाड़ जेल ने फांसी की तैयारी शुरू कर दी है. फांसी देने वाले पवन जल्लाद को भी बुलाया जा रहा है और वह 20 जनवरी को ही तिहाड़ जेल पहुंच जाएगा. प्रशासन की ओर से चारों दोषियों से सजा काटने के दौरान जो कमाई की है, उसका भी आंकड़ा सामने आया है. चारों दोषियों को 22 जनवरी, सुबह 7 बजे फांसी दी जानी है.

किस दोषी ने कमाए कितने रुपये?

जेल में कैदियों को कमाई करने के लिए कुछ काम मुहैया कराए जाते हैं, जिनमें वह अपनी मर्जी के अनुसार योगदान दे सकते हैं. निर्भया के दोषियों ने भी तिहाड़ में रहते हुए कुछ काम किया, अब जब उनकी सजा अंतिम पड़ाव पर पहुंची है तो जेल प्रशासन ने उसका हिसाब भी दिया है. विनय, पवन और अक्षय ने काम कर हज़ारों रुपये कमाए, लेकिन मुकेश ने जेल में कोई काम ना करने का फैसला किया.

सजा के दौरान जेल में काम करते हुए

-    विनय ने 39,000 रुपये कमाए.

-    पवन ने 29,000 रुपये कमाए.

-    अक्षय ने 69,000 रुपये कमाए.

-    मुकेश ने कोई काम नहीं किया.

20 को तिहाड़ पहुंचेगा जल्लाद, मिलेंगे इतने रुपये

तिहाड़ जेल प्रशासन की तरफ से निर्भया के दोषियों को फांसी देने के लिए पवन जल्लाद को बुलाया गया है. 20 जनवरी को पवन जल्लाद तिहाड़ पहुंचेगा और दो दिन के लिए वहां पर ही रहेगा. पवन को एक फांसी देने के लिए 15 हजार रुपये मिलेंगे. यानी कुल चार दोषियों को फांसी देने पर पवन जल्लाद को 60 हजार रुपये मिलेंगे.

सुप्रीम कोर्ट से खारिज हो चुकी है याचिका

आपको बता दें कि चार में से दो दोषियों ने सुप्रीम कोर्ट में क्यूरेटिव याचिका दाखिल की थी, लेकिन वो खारिज हो चुकी है. इसके बाद अब दोषी मुकेश ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के सामने दया याचिका लगाई है, जिसमें उसने फांसी से राहत मिलने की मांग की है. इतना ही नहीं मुकेश की तरफ से कोर्ट की ओर से जारी डेथ वारंट के खिलाफ भी सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की गई है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×