scorecardresearch
 

कानपुर: जनरल डिब्बे में मनचलों ने घेरा, रेप से बचने के लिए चलती ट्रेन से कूदीं मां-बेटी

यूपी के कानपुर के पास दौड़ती ट्रेन में रेप की कोशिश की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. बदमाशों के बीच फंसी मां और बेटी ने ट्रेन से छलांग लगाकर अपनी इज्जत बचाई. इस घटना की जानकारी रेलवे पुलिस को दी गई है. पुलिस कहना है कि इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की प्रक्रिया जारी है. घायल मां-बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस ट्रेन में हुई वारदात हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस ट्रेन में हुई वारदात

यूपी के कानपुर के पास दौड़ती ट्रेन में रेप की कोशिश की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. बदमाशों के बीच फंसी मां और बेटी ने ट्रेन से छलांग लगाकर अपनी इज्जत बचाई है. इस घटना की जानकारी रेलवे पुलिस को दे दी गई है. पुलिस कहना है कि इस मामले में एफआईआर दर्ज करने की प्रक्रिया जारी है. घायल मां-बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

जानकारी के मुताबिक, 40 वर्षीय मां अपनी 15 वर्षीय बेटी के साथ हावड़ा-जोधपुर एक्सप्रेस ट्रेन से कोलकाता से दिल्ली आ रही थी. ट्रेन जैसे ही हावड़ा से चली करीब 15 बदमाशों ने उनके साथ अश्लील हरकत करनी शुरू कर दी. उन पर लगातार फब्तियां कसी जा रही थीं. इससे परेशान होकर पीड़िता की मां ने ट्रेन में मौजूद एक सिपाही को इसकी सूचना दी.

सिपाही वहां आया और दो-तीन बदमाशों को पकड़ कर अपने साथ ले गया. लेकिन कुछ देर बाद वे बदमाश वापस बोगी में आ गए. शायद उन्होंने सिपाही को घूस दे दिया था. इसके बाद बदमाश और ज्यादा उत्तेजित हो गए. मां-बेटी के साथ छेड़छाड़ करने लगे. इसी बीच लड़की जब टॉयलेट जा रही थी, तो उन्होंने उसे खींचकर रेप करने की कोशिश की.

तभी मां बीच में टूट पड़ी. किसी तरह बेटी को बचाया. इसके बाद दोनों ट्रेन से कूद गए. पीड़िता का कहना है कि इसके सिवाय उनके पास कोई और रास्ता नहीं था. दौड़ती ट्रेन से कूदने की वजह उन दोनों को गंभीर चोटें आई हैं. दोनों करीब दो घंटे तक ट्रैक के किनारे बेहोश पड़े रहे. होश आने के बाद किसी तरह पास के स्टेशन पहुंचे, तो लोगों ने एंबुलेंस बुलाया.

मां-बेटी को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. वहां उनका इलाज चल रहा है. इसी बीच रेलवे पुलिस को घटना की सूचना दे दी गई. पुलिस ने बताया कि उन्हें इस बाबत शिकायत मिली है. इस मामले की जांच की जा रही है. बताया जा रहा है कि पीड़िता का पिता दिल्ली में काम करता है. पीड़िता अपनी मां के साथ कोलकाता में रहकर पढ़ाई करती है.

बताते चलें कि कुछ महीने पहले ही यूपी के बिजनौर में चलती ट्रेन में जीआरपी के सिपाही ने एक महिला के साथ रेप की वारदात को अंजाम दिया था. पीड़ित महिला की तहरीर पर रेलवे पुलिस ने आरोपी सिपाही के खिलाफ केस दर्ज करके हिरासत में ले लिया था. पीड़िता के मेडिकल जांच में उसके साथ हुए रेप की पुष्टि हो गई थी.

महिला ने आरोप लगाया था कि वह बिजनौर के चांदपुर रेलवे स्टेशन से बिजनौर आने के लिए लखनऊ-चंडीगढ़ एक्सप्रेस में सवार थी. तभी एक जीआरपी के सिपाही ने उसे खाली डिब्बे में ले जाकर डरा धमकाकर रेप किया. इसके बाद महिला की आवाज सुनकर लोग जुट गए और आरोपी को पकड़ कर रेलवे पुलिस के हवाले कर दिया था.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें