scorecardresearch
 

बच्ची बोली- पेट में दर्द होता है, टेस्ट हुआ तो डॉक्टर के उड़ गए होश

चॉकलेट देने के बहाने सुनसान जगह ले जाते थे और वहां गैंगरेप करते. बच्ची ने जीआरपी को बताया कि उसे अक्सर पेट में दर्द होता था. उसे समझ नहीं आता था कि दर्द क्यों हो रहा है. जब भी दर्द होता तो वह कुछ खा लेती थी.

फाइल फोटो. फाइल फोटो.

मध्य प्रदेश में गैंगरेप की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है. यहां भोपाल रेलवे स्टेशन के पास एक जर्जर मकान में एक 12 साल की बच्ची के साथ 4 लोगों ने गैंगरेप किया. बताया जा रहा है कि घटना 3 नवंबर की है. उस वक्त जब जीआरपी को इसकी खबर मिली थी तो उन्होंने पल्ला झाड़ लिया.

इसके बाद जब मीडिया में यह खबर आई तो जीआरपी ने आनन-फानन में मामला दर्ज किया. जब मंगलवार को पीड़ित बच्ची का मेडिकल टेस्ट कराया गया तो पुलिस और डॉक्टर के होश उड़ गए. टेस्ट में बच्ची को 4 माह का गर्भ होने की बात सामने आई. फिलहाल उसे भोपाल के सुल्तानिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है.

दैनिक भास्कर के मुताबिक, बच्ची अपने भाई को ढूंढते हुए जबलपुर से भोपाल आ गई थी. भाई को खोजने के लिए वह रेलवे स्टेशन पर ही सोती थी. इस बीच बच्ची पर कुछ दरिंदों की नजर पड़ी.

वह उसे चॉकलेट देने के बहाने सुनसान जगह ले जाते थे और वहां गैंगरेप करते. बच्ची ने जीआरपी को बताया कि उसे अक्सर पेट में दर्द होता था. उसे समझ नहीं आता था कि दर्द क्यों हो रहा है. जब भी दर्द होता तो वह कुछ खा लेती थी.

इसके पहले भी उसके साथ दरिंदगी होने की बात जब बच्ची से पूछी गई तो वह चुप हो गई और फूट-फूटकर रोने लगी. फिलहाल पुलिस गैंगरेप के आरोपियों की तलाश कर रही है.

बता दें कि कुछ दिन पहले कोचिंग से लौट रही एक छात्रा के साथ भोपाल के हबीबगंज स्टेशन के पास गैंगरेप हुआ था. इस घटना के सामने आने के बाद मध्य प्रदेश पुलिस समेत रेलवे पुलिस के लगभग 10 अफसरों को सस्पेंड किया गया था. उस वक्त भी पुलिस की संवेदनहीनता नजर आई थी और मामला दर्ज नहीं किया था. इस घटना के खिलाफ भोपाल में हजारों लोग सड़कों पर उतरे थे और पुलिस प्रशासन से दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की थी.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें