scorecardresearch
 

पुलिस ने कहा खुदकुशी, परिवार ने कहा- हत्या, पुलिसवालों ने बिल्डिंग से फेंका

दिल्ली पुलिस पर पूछताछ के लिए थाने लाए गए शख्स के कत्ल का आरोप लगा है. पुलिस का कहना है कि बलराज ने खुदकुशी की, जबकि बलराज के परिवार का आरोप है कि पुलिसवालों ने बलराज का कत्ल किया.

बलराज की तीसरी मंजिल से गिरकर मौत बलराज की तीसरी मंजिल से गिरकर मौत

दिल्ली पुलिस की खाकी पर एक बार फिर आरोप लगे हैं. पुलिस पर ये आरोप पूछताछ के लिए थाने लाए गए शख्स के कत्ल का है. दरअसल, थाने में पूछताछ के लिए लाए गए बलराज की तीसरी मंजिल से गिरकर मौत हो गई. पुलिस का कहना है कि बलराज ने खुदकुशी की, जबकि बलराज के परिवार का आरोप है कि पुलिसवालों ने बलराज का कत्ल किया है.

पुलिस के मुताबिक, बलराज का बेटा राहुल इलाके का वांटेड अपराधी है. इसके ऊपर हत्या और हत्या के प्रयास के कई मामले दर्ज हैं और कई महीने से लापता हैं. कुछ दिन पहले भी इलाके में राहुल ने गोलियां चलाई थीं और पुलिस उसे ढूंढ रही थी. इसी मामले में राहुल की जानकारी के लिए पुलिस राहुल के पिता बलराज, राहुल की मां और जीजा को रविवार को थाने लाई थी. पुलिस के मुताबिक, रात में पूछताछ के दौरान बलराज टॉयलेट जाने के लिए कमरे से बाहर गया, जब काफी देर तक बलराज नहीं लौटा तो पुलिस उसे देखने कमरे से बाहर निकली तो देखा कि तीसरी मंजिल से नीचे जमीन पर बलराज लहूलुहान हालत में पड़ा है. फौरन उसे अस्पताल ले गए जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. पुलिस का कहना है कि तीसरी मंजिल से कूदकर बलराज ने खुदकुशी की है.

दूसरी तरफ बलराज के परिवार का आरोप है कि बलराज की पत्नी ने खुद देखा कि बलराज को पुलिसवाले नीचे फेंक रहे हैं. उनका कहना है कि बलराज ने खुदकुशी नहीं की, बल्कि पुलिसवालों ने थाने के अंदर उनकी हत्या की. पुलिस ने लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. बवाना थाने के बाहर बलराज के परिवारवाले इंसाफ की गुहार लगा रहे हैं. फिलहाल पुलिस ने जांच के आदेश दे दिए हैं, लेकिन तमाम सवाल इस घटना पर खड़े हो रहे हैं कि आखिर थाने में पूछताछ के लिए लाए गए शख्स की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है? जाहिर तौर पर इस मामले में पुलिस की लापरवाही साफ नजर आती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें