scorecardresearch
 

नोटबंदी के बाद बैंकों में 3 से 4 लाख करोड़ का काला धन हुआ जमा

नोटबंदी की 8 नवंबर को घोषणा के बाद पूरे देश में रातो-रात ब्लैकमनी से छुटकारा पाने की कवायद शुरू हो गई. इनकम टैक्स विभाग को नोटबंदी के दौरान मिले आंकड़ों के मुताबिक इस दौरान 3-4 लाख करोड़ रुपये का कालाधन अलग-अलग बैंकों में जमा किया गया. इनकम टैक्स विभाग देशभर में बैंक खातों की जांच करेगा और यह पता लगाने की कोशिश की जाएगी कि किस खाते में बिना टैक्स दिए पैसे जमा किए गए हैं.

सरकार का अनुमान 3-4 लाख करोड़ कालाधन बैंकों में जमा सरकार का अनुमान 3-4 लाख करोड़ कालाधन बैंकों में जमा

नोटबंदी की 8 नवंबर को घोषणा के बाद पूरे देश में रातो-रात ब्लैकमनी से छुटकारा पाने की कवायद शुरू हो गई. इनकम टैक्स विभाग को नोटबंदी के दौरान मिले आंकड़ों के मुताबिक इस दौरान 3-4 लाख करोड़ रुपये का कालाधन अलग-अलग बैंकों में जमा किया गया.

इनकम टैक्स विभाग देशभर में बैंक खातों की जांच करेगा और यह पता लगाने की कोशिश की जाएगी कि किस खाते में बिना टैक्स दिए पैसे जमा किए गए हैं.

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट को मिले आंकड़ों के मुताबिक नोटबंदी के बाद 50 दिनों के बैंक के आंकड़ों से साफ है कि देश में 60 लाख बैंक खातों में 2 लाख रुपये से अधिक रकम जमा की गई है. इन खातों में जमा की गई कुल रकम 7.34 लाख करोड़ रुपये है.

केन्द्र सरकार के मुताबिक जिन 60 लाख बैंक खातों में 2 लाख रुपये से अधिक जमा हुए हैं उनमें से 6.80 लाख बैंक खातों पर जांच एजेंसियों की नजर है.

जानिए और क्या कहते हैं शुरुआती आंकड़े-

नोटबंदी के बाद डॉरमेंट बैंक अकाउंट में जमा हुए 25,000 करोड़

नॉर्थ-ईस्ट के राज्यों में 10,700 करोड़ का काला धन जमा

सहकारी बैंकों में जमा हुए 16,000 करोड़ रुपये

नोटबंदी के बाद 80,000 करोड़ रुपये का इस्तेमाल लोन रीपेमेंट किया गया

नॉर्थ इंडिया में 10,700 करोड़ रुपये अलग-अलग बैंकों में जमा किए गए

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें