scorecardresearch
 

दीपिंदर गोयल के ‘सारथी’ बने गौरव गुप्ता, Zomato में ऐसा रहा सफर

कुछ महीने पहले शेयर बाजार में दस्तक देने वाली Zomato के को-फाउंडर्स में से एक गौरव गुप्ता ने आज इस फूड डिलिवरी कंपनी को अलविदा कह दिया. जानें कैसा रहा गौरव गुप्ता का Zomato में सफर...

Zomato के को-फाउंडर गौरव गुप्ता (Photo : Twitter) Zomato के को-फाउंडर गौरव गुप्ता (Photo : Twitter)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • शुरू की Zomato Gold, Zomato Pay सर्विस
  • Zomato का IPO लाने में निभाई अहम भूमिका
  • 2015 में Zomato जॉइन करने से पहले थे कंसल्टेंट

Zomato के को-फाउंडर्स में से एक गौरव गुप्ता ने 6 साल कंपनी में बिताने के बाद मंगलवार को विदा ली. गौरव कंपनी में बिजनेस हेड के तौर पर शामिल हुए और को-फाउंडर्स में से एक बने. जानें कैसा रहा उनका Zomato में सफर...

2015 में Zomato पहुंचे गौरव गुप्ता

IIT और IIM जैसे बड़े संस्थानों से पढ़ाई कर चुके गौरव गुप्ता लगभग एक दशक तक A. T. Karney में कंसल्टेंट के तौर पर काम करने के बाद जुलाई 2015 में फूड टेक कंपनी Zomato पहुंचे. Zomato रेस्टोरेंट में लोगों को ऐप से टेबल रिजर्व कराने की सर्विस देती है. गौरव गुप्ता ने जब कंपनी को जॉइन किया तब वह इसी सर्विस के बिजनेस हेड रहे.

Zomato में संभाली ये जिम्मेदारियां

इसके बाद Zomato में गौरव गुप्ता ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. टेबल रिजर्वेशन के बिजनेस हेड के बाद उन्होंने कंपनी में ग्लोबल एडवर्टाइजिंग सेल्स हेड और बड़े एंटरप्राइज एकाउंट के प्रेसिडेंट के तौर पर काम किया. वर्ष 2018 में उन्हें एक और प्रमोशन मिला और वो कंपनी के चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर (COO) बन गए. इसके बाद मार्च 2019 में कंपनी ने उन्हें COO तो बनाए रखा, लेकिन साथ ही उन्हें कंपनी का को-फाउंडर भी बना दिया.

Zomato में बने दीपिंदर के सारथी

Zomato में रहते हुए गौरव गुप्ता कई नई सर्विस और कंपनी की मजबूती में दीपिंदर गोयल के सारथी रहे. Zomato का क्लाउड किचन बिजनेस हो या Zomato Infrastructure Services, Zomato Gold, Zomato Pay इन सभी सर्विस को मुकाम तक पहुंचाने में गौरव गुप्ता हमेशा कृष्ण की तरह दीपिंदर गोयल के सारथी बने रहे. Zomato के IPO को लाने और उसे लिस्ट कराने में भी गौरव गुप्ता की बड़ी भूमिका रही.

गौरव के जाने पर खुद दीपिंदर गोयल ने कहा, ‘गौरव गुप्ता के साथ पिछले 6 साल का सफर बेहद शानदार रहा है. इस साथ की वजह से आज हम बहुत आगे आ गए हैं. मैं आपको आपके भविष्य के लिए शुभकामनाएं देता हूं, और आगे दोनों अच्छे दोस्त बने रहेंगे.' 

जाते-जाते गौरव ने ये कहा बाकी एम्प्लॉइज से

Zomato से विदा लेते वक्त गौरव गुप्ता ने कर्मचारियों को एक ई-मेल लिखा. इसमें उन्होंने कहा कि ‘वो अपनी जिंदगी में एक नया मोड़ ले रहे हैं और एक नया अध्याय शुरू कर रहे हैं. Zomato में पिछले 6 साल में मैंने अपनी जिंदगी के इस अध्याय से काफी कुछ सीखा है. Zomato को आगे ले जाने के लिए अब हमारे पास एक बेहतर टीम है. अब समय आ गया है कि मेरी यात्रा में मैं  अलग रास्ता लूं.’’

ये भी पढ़ें: 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें