scorecardresearch
 

इंडिया में नहीं बनेगी Tesla कार? Elon Musk की चीन में दूसरी फैक्टरी खोलने की तैयारी

टेस्ला भारत में अपनी कारें बनाएगी या नहीं, अपनी फैक्टरी यहां खोलेगी या नहीं, इसे लेकर भले स्थिति अभी साफ ना हो, लेकिन कंपनी चीन में अपनी दूसरी फैक्टरी जल्द खोल सकती है. पढ़ें ये खबर...

X
Elon Musk की चीन में दूसरी फैक्टरी खोलने की तैयारी (Photo : Reuters)
Elon Musk की चीन में दूसरी फैक्टरी खोलने की तैयारी (Photo : Reuters)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • भारत को स्वीकार नहीं चीन में बनी टेस्ला कार
  • मस्क की इच्छा, इंपोर्ट ड्यूटी कम करे भारत
  • भारत दुनिया का 5वां बड़ा ऑटो मार्केट

दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति एलन मस्क (Elon Musk) इंडिया में टेस्ला कार (Tesla Electric Car) बनाने के लिए फैक्टरी लगाएंगे या नहीं, इसे लेकर सरकार और कंपनी की ओर से अलग-अलग मंचों पर कई बातें की गई हैं. लेकिन अब खबर सामने आई है कि कंपनी चीन में अपनी एक और फैक्टरी लगाने जा रही है.

शंघाई में खुल सकती है दूसरी फैक्टरी
रॉयटर्स के मुताबिक टेस्ला इंक चीन में एक नई फैक्टरी बनाने की प्लानिंग कर रही है. इस घटनाक्रम से जुड़े दो लोगों के हवाले से एजेंसी ने खबर दी है कि चीन में Tesla Cars की बढ़ती मांग को पूरा करने और एक्सपोर्ट  के लिए उत्पादन बढ़ाने को लेकर कंपनी शंघाई शहर में अपनी नई फैक्टरी खोल सकती है. इस पर अगले महीने ही काम शुरू हो सकता है. एक बार ये फैक्टरी पूरी तरह से चालू हो जाएगी तो Tesla चीन में हर साल 20 लाख कारें बनाने लगेगी. हालांकि इस बारे में  Tesla की ओर से कोई कमेंट नहीं किया गया है.

भारत में फंसा है पेंच
दुनिया के 5वें सबसे बड़े ऑटोमोबाइल मार्केट भारत में Tesla की बहुत दिलचस्पी है. कंपनी ने हाल में अपनी कुछ कारों की यहां टेस्टिंग भी है. लेकिन कंपनी के भारत में कार लॉन्च करने को लेकर कई पेंच फंसे हुए हैं. 

एलन मस्क ने टेस्ला को भारत में लाने (Tesla in India) को लेकर ट्विटर पर कहा था, ‘उन्हें सरकार के साथ परेशानियों का सामना’ करना पड़ रहा है. उनके इस ट्ववीट के बाद तेलंगाना, कर्नाटक, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु जैसे राज्य उन्हें अपने यहां प्लांट लगाने का आमंत्रण दे चुके हैं. लेकिन कंपनी इंडिया में अपना प्लांट लगाएगी या नहीं इसे लेकर स्थिति साफ नहीं है.

गडकरी कह चुके हैं साफ-साफ
केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी भी टेस्ला से साफ-साफ कह चुके हैं कि अगर उसे इंडिया में अपनी कार बेचनी है तो उसे इन्हें यहीं बनाना चाहिए. हाल में उन्होंने बिजनेस टुडे के एक कार्यक्रम में कहा था, ‘भारत में मेड इन चाइना (Made In China) टेस्ला (Tesla) कारों का स्वागत नहीं है. भारत में टेस्ला का स्वागत है, लेकिन अगर वे चाहते हैं कि चीन में कारें बनाकर यहां बेचें, तो यह देश के लिए ठीक नहीं है.’

जबकि Elon Musk की इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला (Tesla) भारत सरकार से इम्पोर्ट ड्यूटी पर छूट की मांग कर रही है. कंपनी चाहती है कि वह पूरी तरह से तैयार कारें भारतीय बाजार में इम्पोर्ट करे. भारत में अभी ऐसे इम्पोर्ट पर 100 फीसदी टैक्स लगता है. 

ये भी पढ़ें: 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें