scorecardresearch
 

गजनवी की कब्र पर पहुंचा तालिबानी नेता Anas Haqqani, सोमनाथ मंदिर तोड़ने का किया जिक्र

तालिबानी नेता अनस हक्कानी ने महमूद गजनवी की कब्र पर पहुंचा. यहां उसने सोमनाथ मंदिर तोड़ने का जिक्र भी किया. उसने कहा कि गजनवी ने सोमनाथ की मूर्ति तोड़ी थी.

तालिबानी नेता अनस हक्कानी (फोटो- ट्विटर) तालिबानी नेता अनस हक्कानी (फोटो- ट्विटर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गजनवी की कब्र पर पहुंचा हक्कानी
  • बोला- उसने सोमनाथ की मूर्ति तोड़ी थी

अफगानिस्तान (Afghanistan) की सत्ता में आए तालिबान (Taliban) को डेढ़ महीने से ज्यादा का वक्त बीत गया है और अब उसने अपने रंग भी दिखाने शुरू कर दिए हैं. तालिबानी नेता अनस हक्कानी (Anas Haqqani) ने मंगलवार को महमूद गजनवी (Mahmud Ghaznavi) की कब्र पर पहुंचा. यहां पहुंचकर उसने गजनवी की तारीफ की और सोमनाथ मंदिर को तोड़े जाने का जिक्र भी किया. 

महमूद गजनवी ने गुजरात के सोमनाथ मंदिर को तोड़ दिया था. उसने भारत पर 17 बार हमले किए थे. उसी की दरगाह पर अनस हक्कानी पहुंचा था. यहां पहुंचकर हक्कानी ने बड़े गर्व से सोमनाथ मंदिर तोड़ने का जिक्र किया. 

हक्कानी ने ट्वीट किया, 'आज हमने 10वीं सदी के मुस्लिम योद्धा और मुजाहिद महमूद गजनवी की दरगाह का दौरा किया. गजनवी ने एक मजबूत मुस्लिम शासन स्थापित किया था और सोमनाथ की मूर्ति तोड़ी थी.'

साल 1026 में हुआ था मंदिर पर हमला 

भारत के 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक सोमनाथ मंदिर पर 1026 में महमूद गजनवी ने हमला किया था. कहा जाता है कि अरब यात्री अल-बरुनी के अपने यात्रा वृतान्त में मंदिर का उल्लेख देख गजनवी ने करीब 5 हजार साथियों के साथ इस मंदिर पर हमला कर दिया था. उसने मंदिर की संपत्ति भी लूट ली थी. सोमनाथ मंदिर पर इससे पहले और इसके बाद भी कई बार हमले हुए और उसे तोड़ा गया, लेकिन हर बार इसका पुनर्निर्माण भी हुआ. आखिरी बार सरदार वल्लभ भाई पटेल के आदेश पर इस मंदिर का पुनर्निर्माण किया गया था. अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) श्री सोमनाथ मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×