scorecardresearch
 

बिहार, छत्तीसगढ़, एमपी और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने 'ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं' पर क्या कहा?

बिहार, छत्तीसगढ़, एमपी और दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री ने 'ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं' पर क्या कहा?

केंद्र सरकार की तरफ से राज्यसभा में बयान दिया गया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोरोना वायरस महामारी की दूसरी लहर के दौरान ऑक्सीजन की कमी के चलते कोई मौत नहीं हुई है. जब से ये बयान सामने आया है तब से सियासी भूचाल मचा हुआ है. विपक्ष केंद्र को घेरने की कोशिश कर रहा है. दूसरी लहर की विभीषिका देश अभी उबरा नहीं है. और 'ऑक्सीजन की कमी से मौत नहीं' होने के डाटा हैरान करने वाली हैं. छत्तीसगढ़, बिहार, मध्य प्रदेश, गोवा और महाराष्ट्र ने स्वीकार किया है कि ऑक्सीजन की कमी तो हुई थी, लेकिन किसी की जान इस वजह से नहीं गई. देखें वीडियो.

Heartbreaking images of people gasping for breath during the devastating second wave of coronavirus pandemic are still fresh in memory. But the Centre has claimed no deaths due to lack of oxygen were reported by states and Union Territories. The statement in parliament has sparked a row. The opposition accuses the centre of insensitivity as BJP defends the government's response. In this video watch, the Health Minister of Bihar, Madhya Pradesh, and Chhattisgarh said on 'no deaths due to oxygen shortage'.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें