scorecardresearch
 

कभी McDonald में करते थे काम, अब अंबानी और अडानी से भी ज्यादा अमीर हो गए Binance के CEO CZ

कभी McDonald में काम करने वाले Binance के फाउंडर और CEO Changpeng Zhao अब मुकेश अंबानी और गौतम अडानी से ज्यादा अमीर हैं.

X
Changpeng Zhao Image: Forbes Changpeng Zhao Image: Forbes
स्टोरी हाइलाइट्स
  • Binance एक क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज है
  • Zhao का नेटवर्थ 96 बिलियन डॉलर पहुंच गया है

चांगपेंग झाओ (Changpeng Zhao) को लेकर जो नई रिपोर्ट आई है उसके अनुसार वो अब भारत के सबसे अमीर व्यक्ति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी से भी ज्यादा संपत्ति के मालिक हैं. Bloomberg की ताजा रिपोर्ट के अनुसार Changpeng Zhao का नेटवर्थ 96 बिलियन डॉलर पहुंच गया है. 

आपको बता दें कि Changpeng Zhao को CZ के नाम से भी जाना जाता है. वो क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज Binance के फाउंडर और CEO है. वो इससे पहले भी क्रिप्टोकरेंसी इंडस्ट्री में काम कर चुके हैं. झाओ ने Blockchain.info डेवलप करने वाली टीम का हिस्सा भी रह चुके हैं. 

इसके अलावा वो क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज OKCoin में बतौर चीफ टेक्नोलॉजी ऑफिसर भी काम कर चुके हैं. Changpeng Zhao का जन्म चीन में हुआ लेकिन लगभग 12 साल की उम्र में वो फैमली के साथ कनाडा शिफ्ट हो गए. 

उनके मां-पिता दोनों ही शिक्षक के तौर पर चीन में काम कर रहे थे. झाओ ने अपनी फैमली को सपोर्ट करने के लिए कई जगहों पर काम किया. उन्होंने McDonald में भी काम किया था. 

McGill University में पढ़ाई के दौरान उन्होंने कंप्यूटर साइंस में काफी दिलचस्पी दिखाई. ग्रेजुएट होने के बाद उन्हें Tokyo Stock Exchange में सबकॉन्ट्रैक्टर के तौर उन्हें इंटर्नशिप मिली. वो वहां पर ट्रेड ऑर्डर के लिए सॉफ्टवेयर डेवलप करते थे. इसके बाद उन्होंने चार सालों तक Bloomberg Tradebook में काम किया. 

साल 2005 में वो शंघाई गए जहां उन्होंने ब्रोकर के लिए सबसे तेज फ्रीक्वेंसी ट्रेडिंग सिस्टम Fusion Systems की स्थापना की. क्रिप्टो की तरफ उनका झुकाव साल 2013 के बाद शुरू हुआ. उसके बाद उन्होंने Blockchain.info और OKCoin के साथ काम किया. 

साल 2017 में उन्होंने OKCoin को छोड़ एक क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज Binance को शुरू किया. इसे जुलाई 2017 में लॉन्च किया गया था. लॉन्च के 8 महीने के अंदर झाओ ने Binance को ट्रेडिंग वॉल्यूम के अनुसार दुनिया का सबसे बड़ा क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज बना दिया. 

Zhao ने ब्लॉकचेन नेटवर्क Binance Smart Chain को भी लॉन्च किया. इससे वो डिसेंट्रलाइज्ड फाइनेंस इंडस्ट्री के डेवलपमेंट में कंट्रीब्यूट कर रहे हैं. पिछले साल Bloomberg Markets को दिए एक इंटरव्यू में Zhao ने बताया कि उनके लिक्विड नेटवर्थ का 100 परसेंट क्रिप्टोकरेंसी के फॉर्म में है. 

एक इंटरव्यू में उन्होंने ये भी बताया कि वो अपनी संपत्ति का 99 परसेंट हिस्सा डोनेट कर देंगे जैसा की बाकी एंटरप्रेन्योर और फाउंडर्स करते हैं. Binance को चीन में लॉन्च किया था लेकिन क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग को चीन में बैन करने से पहले ही उन्होंने हेडक्वार्टर को जापान शिफ्ट कर लिया. 

Binance की सफलता के कारण ही अब Changpeng Zhao का नेटवर्थ 96 बिलियन डॉलर पहुंच गया है. हालांकि, इनकी संपत्ति इससे भी ज्यादा हो सकती है क्योंकि इसमें झाओ के द्वारा क्रिप्टोकरेंसी में किए गए इनवेस्ट को शामिल नहीं किया गया है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें