scorecardresearch
 

ट्रू कॉलर का दावा, मार्च तक Truecaller Pay के पास होंगे 2.5 करोड़ कस्टमर्स

Truecaller अब सिर्फ फोन नंबर की जानकारी वाला ही ऐप नहीं है, बल्कि इससे पेमेंट किए जा सकते हैं. UPI बेस्ड फीचर ट्रू कॉलर में पहले ही जुड़ चुका है.

Representational Image Representational Image

भारत में ट्रू कॉलर यूज करने वालों की संख्या काफी है. कंपनी का अपना पेमेंट प्लेटफॉर्म Truecaller Pay भी है. यह ट्रू कॉलर के मुख्य ऐप में ही एक ऑप्शन के तौर पर दिया गया है. अब कंपनी अपनी पेमेंट सर्विस पर ज्यादा ध्यान दे रही है, क्योंकि भारत में डिजिटल पेमेंट लोग ज्यादा कर रहे हैं.

कंपनी ने कहा है कि मार्च 2019 तक कंपनी के पास 2.5 करोड़ यूजर्स होंगे. कंपनी के मुताबिक रोजाना लगभग 1 लाख लोग अपना बैंक अकाउंट लिंक करा रहे हैं जिसमें से 50 फीसदी UPI के नए यूजर्स हैं.

ट्रू कॉलर पे के वाइस प्रेसिडेंट सोनी जॉय ने कहा है, ‘जब से हमने ट्रू कॉलर पे लॉन्च किया है हमारे पास यूजर्स के पॉजिटिव रेस्पॉन्स आ रहे हैं. इस वजह से हम अपने पेमेंट प्लेटफॉर्म को मजबूत करने के लिए ज्यादा प्रतिबद्ध हैं और ऐप में ज्यादा फीचर लाने के लिए आक्रामक हो कर काम कर रहे हैं’

गौरतलब है कि ट्रू कॉलर स्वीडन की एक कंपनी ट्रू सॉफ्टवेयर का हिस्सा है जिसे 2009 में शुरू किया गया था. यह ऐप दुनिया भर में फोन नंबर की डीटेल्स जानने के लिए यूज किया जाता है. लेकिन अब भारत में कंपनी ने पेमेंट सर्विस भी शुरू कर दी है और कंपनी जैसा दावा कर रही है उससे लगता है की आने वाले समय में दूसरे पेमेंट ऐप्स के लिए टक्कर बढ़ सकती है. गूगल पे और पेटीएम जैसे ऐप्स फिलहाल ज्यादा पॉपुलर हैं. गूगल ने सितंबर में बताया था कि Google Pay के पास 2.5 करोड़ मंथली ऐक्टिव यूजर्स हैं. 

अगर आप ट्रू कॉलर यूज करते हैं तो एक बात ध्यान में रखें की आप इस ऐप को अपने कॉन्टैक्स का ऐक्सेस दे रहे हैं. आपके डिवाइस के सारे कॉन्टैक्ट्स सिर्फ आपके पास ही नहीं, बल्कि ट्रू कॉलर के पास भी होती है. 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें