scorecardresearch
 

पहले साथ बैठते थे, अब भूल गए, मैं याद दिलाऊंगी... स्वप्ना सुरेश का केरल के CM पर हमला

स्वप्ना सुरेश ने केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनका दावा है कि उन्होंने दुबई में पी विजयन को नोटों से भरा बैग दिया. जबकि विजयन ने इसे राजनीतिक साजिश करार दिया है.

X
स्वप्ना सुरेश ने दावा किया कि जब सीएम विजयन 2016 में दुबई गए थे, तब उन्हें पैसों से भरा बैग दिया गया था. स्वप्ना सुरेश ने दावा किया कि जब सीएम विजयन 2016 में दुबई गए थे, तब उन्हें पैसों से भरा बैग दिया गया था.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • सोना तस्करी मामले में मुख्य आरोपी हैं स्वप्ना सुरेश
  • स्वप्ना ने केरल के सीएम पी विजयन पर लगाए हैं आरोप

केरल में सोना तस्करी केस की मुख्य आरोपी स्वप्ना सुरेश ने एक बार फिर मुख्यमंत्री पी विजयन पर हमला बोला है. उन्होंने पी विजयन के पहचानने से इंकार करने पर हैरानी जताई और कहा कि अब वह सोशल मीडिया के जरिए पी विजयन और उनके परिवार को याद दिलाऊंगी.

स्वप्ना सुरेश ने कहा कि केरल के सीएम पी विजयन ने कहा है कि वह मुझे नहीं जानते. जबकि सीएम और मैंने, उनकी पत्नी, उनकी बेटी और बेटे ने क्लिफ हाउस में बैठकर कई मसलों पर चर्चा की और निर्णय लिए. अगर सीएम अब सब भूल गए हैं तो मौका मिलते ही मैं उन्हें और उनके परिवार को आपके (मीडिया) के माध्यम से याद दिलाऊंगी.

बताते चलें कि स्वप्ना सुरेश ने केरल के मुख्यमंत्री पी विजयन पर गंभीर आरोप लगाए हैं. उनका दावा है कि उन्होंने दुबई में पी विजयन को नोटों से भरा बैग दिया. जबकि विजयन ने इसे राजनीतिक साजिश करार दिया है. स्वप्ना सुरेश का कहना है कि उनके आरोप किसी भी राजनीतिक एजेंडे का हिस्सा नहीं है. सीएम पी विजयन का कहना है कि उनका स्वप्ना सुरेश से कभी कोई संबंध नहीं रहा है और ना वह उसे जानते हैं.

इधर, सोना तस्करी केस में कांग्रेस और बीजेपी लगातार विरोध प्रदर्शन कर रही है. सोमवार को सीएम पी विजयन के खिलाफ कांग्रेस के युवा कार्यकर्ताओं ने विमान में ही नारेबाजी कर दी. पी विजयन कन्नूर से इसी फ्लाइट से तिरुअनंतपुरम की यात्रा पर थे. 

इसके बाद राज्यभर में CPI(M) और कांग्रेस के कार्यकर्ता आमने सामने आ गए. CPI(M) ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं के विरोध के तरीके को आतंकी गतिविधि करार दिया है. CPI(M) के कार्यकर्ताओं पर तिरुअनंतपुरम समेत राज्य में कई जगहों पर कांग्रेस दफ्तरों में तोड़फोड़ का आरोप लगा है.  

यह है पूरा मामला

जुलाई 2019 में तिरुअनंतपुरम एयरपोर्ट पर कस्टम अफसरों ने कार्गो फ्लाइट के जरिए लाया गया सोना पकड़ा था. इस पैकेट में करीब 13 करोड़ रुपए का 30 किलो सोना जब्त किया था. जब कस्टम ने पैकेट पर पता देखा तो ये वाणिज्य दूतावास का था. ऐसे में पैकेट को दूतावास के प्रतिनिधि के सामने खोला गया. इसके बाद दूतावास के प्रतिनिधि सरीथ (पब्लिक रिलेशन एडवाइजर) को हिरासत में लिया गया था. सरीथ ने पूछताछ में स्वप्ना सुरेश का नाम लिया. 

स्वप्ना सुरेश ने दावा किया कि जब सीएम विजयन 2016 में दुबई गए थे, तब उन्हें पैसों से भरा बैग दिया गया था. उन्होंने कहा, मुख्य सचिव शिवशंकर ने मुझसे संपर्क किया, उस वक्त सीएम विजयन दुबई में थे. मैं उस वक्त दूतावास में सचिव थी. शिवशंकर ने मुझसे कहा कि सीएम एक बैग भूल गए हैं, जिसे तुरंत दुबई ले जाना है. केरल हाई कोर्ट ने कथित रूप से झूठी खबर फैलाने के लिए दर्ज मामले में आरोपी स्वप्ना सुरेश और सरित पीएस की अग्रिम जमानत याचिका गुरुवार को खारिज कर दी. 

स्वप्ना सुरेश ने कहा कि सोना तस्करी केस में केरल सीएम पी विजयन, उनकी पत्नी और बेटी शामिल रही हैं. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, स्वप्ना सुरेश ने बताया- 'मैंने कोर्ट में 164 बयान दिए. इनमें जान को खतरा भी बताया. मैंने कोर्ट में बताया कि इस केस में कौन कौन शामिल थे. इस केस में केरल के मुख्य सचिव एम शिवशंकर, सीएम, सीएम की पत्नी कमला और सीएम की बेटी वीना, तत्कालीन मंत्री के जलील और अन्य अफसर शामिल थे.'

TOPICS:
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
; ;