scorecardresearch
 

गुजरात: कच्छ में ड्रोन से पार्सल की सफल डिलीवरी, डाक विभाग ने 25 मिनट में 47KM दूर पहुंचाया सामान

देश में सबसे बड़े और सीमावर्ती जिले कच्छ में डाक विभाग द्वारा एक नया सफल प्रयोग किया गया है. यहां ड्रोन से दो किलो के पार्सल की सफल डिलीवरी की गई है.  

X
कच्छ में ड्रोन से सफल पार्सल डिलीवरी कच्छ में ड्रोन से सफल पार्सल डिलीवरी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • गुजरात में ड्रोन से सफल पार्सल डिलीवरी
  • कच्छ में भारतीय डाक विभाग को मिली कामयाबी

भारतीय डाक सेवा ने देश में पहली बार ड्रोन से डाक पार्सल की डिलीवरी की है. यह डिलीवरी गुजरात के कच्छ में की गई है. ड्रोन ने 25 मिनट के समय में 47 किमी दूर पार्सल पहुंचाया है. बिना किसी परेशानी के ड्रोन के जरिए दो किलो का डाक पार्सल डिलीवर किया गया है. 

अब तक ड्रोन का इस्तेमाल फोटोग्राफी के लिए किया जाता था, लेकिन अब इसका इस्तेमाल डाक पार्सल को एक जगह से दूसरी जगह भेजने के लिए किया जा रहा है. देश में सबसे बड़े और सीमावर्ती जिले कच्छ में डाक विभाग द्वारा एक नया सफल प्रयोग किया गया है. यहां ड्रोन से दो किलो के पार्सल की सफल डिलीवरी की गई है.  

25 मिनट में 47 किमी दूर पहुंचाया पार्सल 

भारतीय डाक विभाग द्वारा ड्रोन द्वारा डाक सेवा शुरू करने के लिए एक परीक्षण किया गया था, जिसमें भुज तहसील के हबाय पोस्ट ऑफिस से भचाऊ तहसील के नेर गांव पोस्ट ऑफिस तक 47 किमी रूट का चयन किया गया था और दो किलो पार्सल ड्रोन में रखकर भेजा गया था. यह ड्रोन पार्सल महज 25 मिनट में 47 किमी की दूरी तक अपने निश्चित स्थान पर पहुंचा. 

फाइल फोटो

जल्द शुरू हो सकती है ड्रोन सेवा 

इस परीक्षण में ड्रोन में दवा पार्सल लोड किया था जो ड्रोन के जरिए सफलतापूर्वक 25 मिनट में हबाय गांव से नेर गांव तक 47 किमी की दूरी तय करते हुए उतारा गया. ट्रायल बेस के सत्यापन के बाद अब लग रहा है कि सरकार की ओर से आधिकारिक जानकारी देकर ड्रोन डाक सेवा शुरू की जा सकती है. 

दिल्ली से आई है 4 सदस्यीय टीम 

स्थानीय डाक विभाग की अधिकारियों सहित एक उच्च स्तरीय टीम की मौजूदगी में यह परीक्षण किया गया. इस परीक्षण के लिए दिल्ली से 4 सदस्यीय टीम भी आई है. डोरस्टेप बैंकिंग के बाद डाक विभाग अब ड्रोन डिलीवरी जैसी आधुनिकता की ओर बढ़ रहा है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें