scorecardresearch
 

दिल्लीः अब से एक ही सेंटर पर 18+ और 45+ को लगेगी कोरोना वैक्सीन, अपॉइंटमेंट की भी जरूरत नहीं

दिल्ली में अब से एक ही सेंटर पर 18+ और 45+ को कोरोना की वैक्सीन लगाई जाएगी. ये फैसला इसलिए लिया गया है क्योंकि केंद्र सरकार की ओर से अब वैक्सीन की डोज दी जा रही है. पहले ये होता था कि 18+ के लिए अलग से और 45+ के लिए अलग से डोज दी जाती थी, लेकिन अब कॉमन हो गया है.

अभी तक केंद्र 18+ और 45+ को अलग-अलग सेंटर पर लगाई जाती थी वैक्सीन (फाइल फोटो-PTI) अभी तक केंद्र 18+ और 45+ को अलग-अलग सेंटर पर लगाई जाती थी वैक्सीन (फाइल फोटो-PTI)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • एक ही सेंटर पर सभी को लगेगी वैक्सीन
  • स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने दी जानकारी

दिल्ली में अब किसी भी वैक्सीनेशन सेंटर में जाकर कोरोना की वैक्सीन लगवा सकेंगे. वैक्सीनेशन सेंटर में 50-50 फॉर्मूले के तहत अपॉइंटमेंट और वॉक-इन की सुविधा होगी. आम आदमी पार्टी के मुताबिक, केंद्र सरकार ने दोनों श्रेणियों के वैक्सीनेशन स्टॉक को एक कर दिया है. 

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन से जब पूछा गया कि 45+ की वैक्सीन का स्टॉक अब 18+ के लिए भी इस्तेमाल किया जाएगा तो क्या इसके लिए अलग से कोई व्यवस्था है, क्या ज़्यादा सेंटर बनाए जाएंगे? सत्येंद्र जैन ने इसका जवाब देते हुए कहा कि 'अब सब कॉमन हो गया है. एक कैटेगरी हो गई है, जो भी 18+ या 45+ हैं, वो सब एक कैटेगरी में हैं. सबके सेंटर्स अब कॉमन होंगे.' आगे पूछने पर कि क्या 45+ वाले और 18+ किसी भी वैक्सीनेशन सेंटर में जाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं? सत्येंद्र जैन ने कहा कि 'अपॉइंटमेंट न भी लें, वॉक-इन पर भी टीका लग जाएगा.' 

आम आदमी पार्टी की नेता आतिशी ने बुधवार को वैक्सीनेशन बुलेटिन जारी किया. आतिशी ने बताया कि दिल्ली में 22 जून को 84,539 लोगों को वैक्सीन की डोज लगाई गई है, जिसमें से तकरीबन 55 हजार डोज युवाओं को लगाई गई है. जब-जब युवाओं के लिए वैक्सीन उपलब्ध होती है तब-तब वैक्सीनेशन की स्पीड बढ़ जाती है. अगर हम कल के आंकड़े भी देखें तो बड़ी संख्या में युवाओं ने ही वैक्सीनेशन कराया है.

आ रही है कोरोना की ‘सुपरवैक्सीन’, ना वैरिएंट का झंझट रहेगा, ना महामारी का खतरा!

उन्होंने कहा कि महामारी से निपटने का यही एक तरीका है कि पर्याप्त मात्रा में वैक्सीन युवाओं के लिए उपलब्ध कराएं. केंद्र सरकार ने आखिरकार 45 साल से ज्यादा उम्र की श्रेणी और 18 से 44 वर्ष की श्रेणी के वैक्सीनेशन स्टॉक को एक कर दिया है. इसलिए अब युवाओं के लिए वैक्सीन उपलब्ध हो गई है.

आम आदमी पार्टी प्रवक्ता ने डेटा जारी करते हुए बताया कि दिल्ली में अभी तक 66,87,438 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है. दिल्ली में 16 लाख से ज्यादा ऐसे लोग हो गए हैं जिनको वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी हैं. दिल्ली में अभी 9.76 लाख वैक्सीन का स्टॉक उपलब्ध है, जिसमें से 9.10 लाख कोविशील्ड और 66 हजार कोवैक्सीन की डोज उपलब्ध है. कोवैक्सीन का 2 दिन और कोविशील्ड का 13 दिन का स्टॉक उपलब्ध है.

आतिशी ने कहा कि केंद्र सरकार से आग्रह है कि जितनी जल्दी और जितनी अधिक संख्या में वैक्सीन उपलब्ध करवाएंगे, उतनी जल्दी ही दिल्ली वाले सामने आकर वैक्सीनेट करवाएंगे. इससे खुद भी महामारी से सुरक्षित होंगे और पूरी दिल्ली को भी सुरक्षित करेंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें