scorecardresearch
 

NRC पर बोले छत्तीसगढ़ के CM: हम इन काले अंग्रेजों का करेंगे विरोध

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मोदी सरकार की तुलना 'काले अंग्रेज' से की. उन्होंने कहा कि अगर राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) लागू किया जाता है, तो मैं पहला व्यक्ति रहूंगा, जो रजिस्टर पर हस्ताक्षर नहीं करेगा.

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की फाइल फोटो (ANI) मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की फाइल फोटो (ANI)

  • नागरिकता कानून, NRC के विरोध में भूपेश बघेल
  • बघेल ने कहा, एनआरसी पर नहीं करेंगे हस्ताक्षर

देश के कई हिस्सों में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) का विरोध जारी है. छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मोदी सरकार की तुलना 'काले अंग्रेज' से की. उन्होंने कहा कि अगर राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर (एनआरसी) लागू किया जाता है, तो मैं पहला व्यक्ति रहूंगा, जो रजिस्टर पर हस्ताक्षर नहीं करेगा. दक्षिण अफ्रीका में गांधी जी ने 'अंग्रेजों' के खिलाफ एक आंदोलन शुरू किया था, उसी तरह हम यहां इन 'काले अंग्रेजों' का विरोध करेंगे.

भूपेश बघेल का नाम उन मुख्यमंत्रियों में शामिल है जो शुरू से नागरिकता कानून और एनआरसी का विरोध कर रहे हैं. भूपेश बघेल छत्तीसगढ़ में इसे लागू न करने का भी ऐलान कर चुके हैं.

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री बघेल ने शनिवार को एनआरसी के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की अगुआई वाली केंद्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि ये लोग पूरे देश में एनआरसी लागू कर देश में आग लगाना चाहते हैं. दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस पार्टी की ओर से आयोजित 'भारत बचाओ रैली' में उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए बघेल ने कहा, "आज ये लोग पूरे देश में एनआरसी लागू करना चाहते हैं, ये देश में आग लगाना चाहते हैं. हम कांग्रेस के लोग जान देना जानते हैं, देश की एकता के लिए महात्मा गांधी ने जान दी. इंदिरा और राजीव गांधी ने बलिदान दिया."

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें