scorecardresearch
 

'जिंदगी में करियर के अलावा भी जरूरी हैं कई चीजें, यूथ को पढ़नी चाहिए ये 5 किताबें': अमिश त्रिपाठी

उन्होंने कहा कि आपको जिंदगी में क्या मैटर करता है इस बात का चयन समय आने पर करना पड़ता है. इस बात को समझें. करियर बनाना जरूरी है. आपको करियर की जरूरत होती है और आप आगे बढ़ना चाहते हैं. लेकिन जिंदगी में करियर के अलावा और भी चीजें हैं जो आपके लिए जरूरी हैं. इसमें आपका परिवार, देश, आप खुद, दोस्त, बहन-भाई सब आते हैं. आपका यह बात समझकर इन सभी को समय देना भी जरूरी है.

अमिश त्रिपाठी अमिश त्रिपाठी
स्टोरी हाइलाइट्स
  • अमिश ने बताया महामारी के बीच क्या सीखा
  • करियर के अलावा भी बहुत कुछ है
  • अमिश ने बताया किन किताबों को पढ़ें

इंडिया टुडे ई माइंड रॉक्स 2021 में शुक्रवार को भारत के मशहूर लेखकों में से एक अमिश त्रिपाठी ने शिरकत की. अमिश ने यहां अपने जीवन और भारत की संस्कृति से लेकर राजनीति और प्राचीन भारत में होने वाली चीजों को लेकर बात की. साथ ही अमिश त्रिपाठी ने भारत की यंग जनता के लिए किताबें भी सजेस्ट कीं. 

जिंदगी में काम आता है परिवार

अमिश त्रिपाठी ने बताया कि कैसे वह और उनके भाई अपने पिता विनय त्रिपाठी के देहांत के बाद उनके बिजनेस को संभाल रहे हैं. साथ ही उन्होंने बताया कि कोरोना में उन्होंने एक सबसे जरूरी चीज क्या सीखी है. अमिश यंग जनता को संदेश देते हुए कहते हैं कि आप दुख से नहीं बच सकते. लेकिन आपके साथ जो इस वक्त में रहते हैं वो आपके परिवारवाले और करीबी होते हैं. आप लिबरल और ट्रेडिशनल साथ में हो सकते हैं. इसके साथ आपको दोनों चीजें मिलेंगी. आपको दो अलग राहे चुनने की जरूरत नहीं है. साथ ही आपका परिवार और बहन-भाई ही आपके लिए सबसे जरूरी है.  

 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 
 

A post shared by Author Amish (@authoramish)

सलमान खान को ट्रोल करने से यूट्यूबर कैरी मिनाटी को नहीं लगता डर?

उन्होंने कहा कि आपको जिंदगी में क्या मैटर करता है इस बात का चयन समय आने पर करना पड़ता है. इस बात को समझें. करियर बनाना जरूरी है. आपको करियर की जरूरत होती है और आप आगे बढ़ना चाहते हैं. लेकिन जिंदगी में करियर के अलावा और भी चीजें हैं जो आपके लिए जरूरी हैं. इसमें आपका परिवार, देश, आप खुद, दोस्त, बहन-भाई सब आते हैं. आपका यह बात समझकर इन सभी को समय देना भी जरूरी है.

अमिश ने बताया इन किताबों को पढ़ें

अमिश त्रिपाठी से पूछा गया कि वह भारत के यूथ को किन किताबों को पढ़ने की सलाह देंगे. उन्होंने कहा कि रामायण, महाभारत, शिव पुराण, रिग वेद और ईशावास्य उपनिषद पढ़ने के लिए बढ़िया है. आपको अपनी संस्कृति से जुड़ने का मौका इन किताबों से मिलता है. ईशावास्य उपनिषद के बारे में अमिश ने कहा कि ये सबसे छोटे उपनिषद में से एक है लेकिन बहुत डीप है और आपको बहुत अच्छी सीख देता है. साथ ही अमिश त्रिपाठी ने कहा कि जब यह सब पढ़ने के बाद समय बचे तो मेरी किताबें भी पढ़ें. 

100 करोड़ की फिल्म या बेस्ट एक्ट्रेस अवॉर्ड, दोनों में किसे चुनेंगी कृति सेनन?

इसके अलावा अमिश त्रिपाठी ने क्लासिक किताबों के बारे में भी बताया. उन्होंने कहा कि यंग लोगों को कालिदास की कुमार संभव किताब को पढ़ना चाहिए. यह किताब कार्तिकेय भगवान के जन्म के बारे में है. इसमें भगवान शिव और मां पार्वती के बीच के प्यार के बारे में बहुत खूबसूरती से लिखा गया है. इसके अलावा लेखक थिरूवलुवर की किताब तिरुकुरल, एस एल भईरप्पा की परवा और नरेंद्र कोहली की किताब महासमर भी बढ़िया क्लासिक किताबें हैं, जिन्हें पढ़ा जाना चाहिए.


 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें