scorecardresearch
 

ऑक्सीजन की भरपाई पर कंगना का ट्वीट, यूजर्स बोले- मरीजों को पौधे सूंघाकर जिंदा नहीं रख सकते

कंगना ने सोमवार को ये ट्वीट्स किए हैं. पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा- 'हर कोई ज्यादा से ज्यादा ऑक्सीजन प्लांट बनाने में लगा है, कई टन ऑक्सीजन सिलिंडर्स ला रहे हैं, कोई बताए कि हम पर्यावरण से ये जो ऑक्सीजन जबरदस्ती ले रहे हैं उसकी भरपाई के लिए क्या कर रहे हैं?

कंगना रनौत कंगना रनौत

एक्ट्रेस कंगना रनौत अब सोशल मीड‍िया पर हर दूसरे दिन छाई रहती हैं. कभी राजनीतिक बयानों को लेकर तो कभी बॉलीवुड पर निशाना साधते, कंगना के बेबाक बयान लोगों का ध्यान खींचते रहते हैं. सोशल मीड‍िया पर अपनी सनसनी बरकरार रखते हुए कंगना रनौत ने कोरोना वायरस पैन्डेमिक के समय ऑक्सीजन आपूर्त‍ि के संदर्भ में कुछ ऐसा ट्वीट कर दिया है कि वे ट्रोल हो गई हैं. एक के बाद एक तीन ट्वीट्स कर कंगना ने ऑक्सीजन की भरपाई को लेकर कंट्रोवर्स‍ियल बात कह दी है जिसपर यूजर्स भड़क गए और कंगना की क्लास लगा दी है. 

कंगना ने सोमवार को ये ट्वीट्स किए हैं. पहले ट्वीट में उन्होंने लिखा- 'हर कोई ज्यादा से ज्यादा ऑक्सीजन प्लांट बनाने में लगा है, कई टन ऑक्सीजन सिलिंडर्स ला रहे हैं, कोई बताए कि हम पर्यावरण से ये जो ऑक्सीजन जबरदस्ती ले रहे हैं उसकी भरपाई के लिए क्या कर रहे हैं? लगता है हमने अपनी गलतियों से और आपदा से कुछ नहीं सीखा#PlantTrees'. 

दूसरा ट्वीट- 'इंसानों के लिए ज्यादा से ज्यादा ऑक्सीजन की घोषणा के साथ साथ सरकारों को पर्यावरण के लिए भी राहत का ऐलान करना चाह‍िए, जो लोग इस ऑक्सीजन का इस्तेमाल कर रहे हैं उन्हें ये प्रण भी लेना चाह‍िए कि वे हवा की गुणवत्ता को बेहतर बनाने पर काम करेंगे, हम कब तक इस तरह पर्यावरण को कुछ वापस नहीं देने वाले कीट बने रहेंगे.'

मार्वल स्टूडियोज के 'Eternals' का फर्स्ट लुक रिलीज, एंजेलिना जॉली की दमदार झलक

अब आते हैं कंगना की तीसरे ट्वीट पर- 'याद रखें, धरती से अगर कोई भी अन्य जीवन चाहे वो माइक्रोब हो या कोई कीड़ा, गायब होता है तो उससे मिट्टी की गुणवत्ता और धरती मां की सेहत पर प्रभाव पड़ेगा, वे उन्हें मिस करेंगी पर अगर इंसान गायब हो जाते हैं तो धरती सिर्फ और सिर्फ फूलेगी-फलेगी, अगर आप उससे प्यार नहीं करते या उसके बच्चे नहीं हैं तो आप उसके लिए जरूरी नहीं हैं'. 

भले ही कंगना ने पर्यावरण को बेहतर बनाने के लिए पेड़ लगाने और ऑक्सीजन की भरपाई के लिए पॉज‍िट‍िव बात कही है, पर शायद गलत टाइमिंग की वजह से लोगों को इस वक्त उनकी ये बात पसंद नहीं आई. यूजर्स ने उन्हें कहा- कंगना दीदी अभी वही ऑक्सीजन सिलिंडर्स ही चाह‍िए...अब हॉस्प‍िटल वाले मरीजों को पेड़ पौधे सूंघाकर जिंदा नहीं रख सकते. एक यूजर ने लिखा- पहले तो आप किसी अच्छे साइकेट्र‍िस्ट से ट्रीटमेंट लीज‍िए, तब तक जहर फैलाना बंद कीज‍िए. 

यूजर्स ने कहा ये 

यूजर्स ने कंगना को बुरी तरह ट्रोल किया है. एक यूजर ने कंगना के ट्वीट पर लिखा- और कुछ लोग ऑक्सीजन का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं क्योंकि हर बार जब वे प्रकृति से ऑक्सीजन लेते हैं, वे ट्व‍िटर पर आने का फैसला लेते हैं और कुछ ऐसा ट्वीट करते हैं जो दूसरों के लिए साइनाइड का काम करता है. इस तरह के कई अन्य ट्वीट्स हैं जो कंगना को बुरा भला कह रहे हैं. 

फरहान अख्तर की 'तूफान' पोस्टपोन, कोरोना को ध्यान में रखते हुए मेकर्स ने लिया फैसला

मालूम हो देश में कोरोना की दूसरी लहर ने भारी तबाही मचा रखी है. ऑक्सीजन और अस्पतालों में बेड की क‍िल्लत हो रही है. ऑक्सीजन की कमी इस वक्त देशव्यापी चिंता बनकर सामने आई है, जिसके लिए विदेश भी भारत को मदद के लिए ऑक्सीजन कंटेनर्स भेज रहे हैं. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें