scorecardresearch
 

1 से 5वीं क्लास तक के बच्चों को स्कूल में दी जाएगी सेक्स एजुकेशन

बच्चों को सेक्सुअल अब्यूज के प्रति जागरुक करने के लिए अब एनसीईआरटी एक नया और बड़ा कदम उठाने जा रही है.

NCERT की किताब में होगा सेक्स एजुकेशन NCERT की किताब में होगा सेक्स एजुकेशन

समाज में बच्चों के खि‍लाफ बढ़ते आपराधि‍क मामलों को देखते हुए एनसीईआरटी की ओर से एक महत्वपूर्ण कदम उठाया जा रहा है. बच्चों को सेक्सुअल अब्यूज के प्रति जागरुक करने के लिए एनसीईआरटी ने अपने सलेबस और करिकुलम में भी बदलाव किया है.

प्राइवेट स्कूल फेवरेट, 1.3 करोड़ गिरा सरकारी स्कूलों में दाखिला

नेशनल काउंसिल फॉर एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) के रिवाइज्ड सलेबस में एजुकेशनल फिल्मों के जरिये बच्चों को अब सेक्स एजुकेशन भी दिया जाएगा. यह सलेबस कक्षा 1 से 5 तक के बच्चों के लिए होगा.

बच्चों को एजुकेशनल फिल्म और काउंसलर की मदद से सेक्सुअल अब्यूज के बारे में बताया जाएगा.

शाबाश: 11 साल के बच्चे ने पास की 12वीं की परीक्षा, जानें कैसे

सलेबस में सेक्स एजुकेशन क्यों जरूरी?
DNA की रिपोर्ट के अनुसार एनसीईआरटी के एक वरिष्ट अधिकारी ने कहा कि बच्चे एक बार बड़े हो जाएं तो वो अपना ध्यान रख सकते हैं. पर छोटे बच्चे नहीं. इसलिए हम छोटे बच्चों के लिए करिकुलम में बदलाव कर रहे हैं, ताकि छोटे बच्चों को मजबूत बना सकें.

तेलंगाना बोर्ड का आया रिजल्ट, लड़कियों ने बाजी मारी

एजुकेशनल फिल्मों के जरिये बच्चों को बताया जाएगा कि चाइल्ड सेक्सुअल अब्यूज क्या होता है. बच्चों को यह पहले से ही गुड टच और बैड टच के बारे में पढ़ाया जा रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें