scorecardresearch
 

गाजियाबादः 5 बीघा जमीन के लालच में नाती ने किया नाना का कत्ल, आरोपी फरार

दीपक अपने नाना हरिया पर खगोट गांव में खरीदी गई 20 बीघे जमीन में से 5 बीघा जमीन अपने नाम पर करवाने का दबाव बना रहा था. जब हरिया ने जमीन उसके नाम करने से मना कर दिया तो वह उनसे रंजिश करने लगा.

सिरोली गांव में हुई हत्या में शामिल 3 आरोपी गिरफ्तार सिरोली गांव में हुई हत्या में शामिल 3 आरोपी गिरफ्तार
स्टोरी हाइलाइट्स
  • हत्याकांड में शामिल 3 अन्य आरोपी गिरफ्तार
  • मामले का मुख्य आरोपी दीपक अभी भी फरार
  • नाना से 5 बीघा जमीन अपने नाम कराना चाहता था आरोपी

गाजियाबाद के लोनी इलाके में एक बेहद चौंकाने वाला मामला सामने आया है. यहां पर जमीन के लालच में नाती ने अपने नाना को ही मौत के घाट उतार दिया. 

दरअसल, मृतक हरिया के बेटे विजयपाल ने लोनी थाने में अपने पिता की एक पत्र की रिपोर्ट दर्ज कराई थी जिसे विजयपाल ने खुलासा किया था कि उनके पिता का मर्डर उसकी बहन के पुत्र दीपक ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर कर दिया है.

दीपक मृतक हरिया पर खगोट गांव में खरीदी गई 20 बीघे जमीन में से 5 बीघा जमीन अपने नाम पर करवाने का दबाव बना रहा था. जब हरिया ने जमीन नाम करने से मना कर दिया तो वह उनसे रंजिश रखने लगा. 3 मई को हरिया अपनी दो बेटियों से मिलने सिरोली गांव गए थे. उसी समय दीपक ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर अपने नाना को मौत के घाट उतारने की योजना बनाई.

इसे भी क्लिक करें --- बीजेपी नेता की बेटी के साथ हैवानियत, पहले बलात्कार फिर आंख निकाल पेड़ से लटकाया शव

साजिश के तहत तहत दीपक ने अपने तीन साथियों के साथ मिलकर नाना के साथ खेत में मारपीट की और फिर गला दबाकर उनका कत्ल कर दिया.

इस हत्याकांड में शामिल रवि, मनदीप और कपिल को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. इस हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त और मृतक का नाती दीपक अभी भी फरार है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें