यूटिलिटी

Gold Price Review: 54 हजार रुपये के आस-पास पहुंचा सोना, साल भर में इतने बढ़े भाव

aajtak.in
  • नई दिल्ली,
  • 11 अप्रैल 2022,
  • अपडेटेड 4:58 PM IST
  • 1/5

गोल्ड की गिनती इन्वेस्टमेंट के पारम्परिक तरीकों में होती है. खासकर भारत में गहनों के अलावा भी सोने को निवेश के साधन के रूप में पुराने जमाने से इस्तेमाल किया जाता रहा है. इसे अनिश्चितता भरे समय में सुरक्षित निवेश माध्यमों में से एक माना जाता है. इसका कारण है कि यह लॉन्ग टर्म में हमेशा फायदा ही देकर जाता है. पिछले एक साल के दौरान गोल्ड की चाल पर गौर करें तो ये बात सच साबित होती है. बीते एक साल में सोने की चमक में करीब 12 फीसदी की तेजी आई है. (Photo: PTI)

  • 2/5

दिल्ली में एक साल पहले 24 कैरेट सोने की कीमत 47,890 रुपये प्रति 10 ग्राम थी. अभी इसकी कीमत 53,750 रुपये प्रति 10 ग्राम पर पहुंच चुकी है. इस तरह सोने के भाव में पिछले एक साल के दौरान 5,860 रुपये यानी 12.23 फीसदी की तेजी आई है. यह किसी भी बैंक के एफडी रेट से ठीक-ठाक ज्यादा रिटर्न है.

  • 3/5

भारतीय बाजार में सोना अगस्त 2020 में रिकॉर्ड बनाने में कामयाब हुआ था. तब सोने की कीमत 56,200 रुपये प्रति दस ग्राम हो गई थी. यह मौजूदा स्तर से 4.55 फीसदी ज्यादा है. हालांकि बीते कुछ दिनों में जिस तरह सोने के भाव में तेजी आई है, ऐसा लगता है कि भारतीय बाजार में सोना फिर से नया रिकॉर्ड बना सकता है. अभी कई फैक्टर्स हैं, जो सोने के भाव को चढ़ाने में मदद कर रहे हैं. (Photo: Reuters)

  • 4/5

ग्लोबल मार्केट की बात करें तो स्पॉट गोल्ड आज 1.5 फीसदी चढ़कर 1,998.37 डॉलर प्रति औंस पर जा पहुंचा है. इससे पहले दिन के कारोबार में यह 2000 डॉलर के लेवल को भी पार कर चुका है. इस तरह ग्लोबल मार्केट में अभी सोने के भाव 18 महीने के हाई लेवल पर हैं. इसका मुख्य कारण रूस-यूक्रेन के बीच जारी जंग के चलते कायम अनिश्चितता और क्रूड ऑयल में आया उबाल है. दुनिया भर में इन्वेस्टर्स सुरक्षित निवेश के रूप में सोना खरीद रहे हैं.

  • 5/5

भारत सोना आयात करने वाले सबसे बड़े देशों में से एक है. इस कारण घरेलू बाजार में सोने की कीमत पर ग्लोबल ट्रेंड का सीधा असर देखने को मिलता है. इसके अलावा घरेलू बाजार में सोने की कीमत पर कुछ सीजनल फैक्टर्स का भी डाइरेक्ट असर पड़ता है. शादी-विवाह का सीजन शुरू होते ही सोने की लोकल डिमांड बढ़ जाती है. अभी ये दोनों फैक्टर इस बात का इशारा कर रहे हैं कि आने वाले समय में घरेलू बाजार में सोने की कीमतों में तेजी बरकरार रह सकती है. (Photo: Reuters)

लेटेस्ट फोटो