scorecardresearch
 

पशुपालकों को इन उद्योगों के लिए AHIDF दे रही है लोन, जानें अप्लाई करने की प्रकिया

इसके अलावा केंद्र सरकार पशुपालन पशुपालन अवसंरचना विकास निधि के माध्यम से लोन लेकर निर्माण इकाइयों को स्थापित कर सकते हैं. भी शुरू कर सकते हैं. इन निर्माण इकाइयों की स्थापना लिए वे बैंकों से लोन के रुप में 90% तक की वित्तीय सहायता प्राप्त कर सकते हैं.

AHIDF Loan Scheme AHIDF Loan Scheme
स्टोरी हाइलाइट्स
  • पशुपालन अवसंरचना विकास निधि के लिए 15000 करोड़ रूपये आवंटित
  • AHIDF के तहत लोन के लिए अप्लाई करने की प्रकिया बेहद सरल

Animal Husbandry Infrastructure Development Fund (AHIDF): भारत की अर्थव्यवस्था काफी हद तक खेती-बाड़ी पर निर्भर है. तकरीबन आधी से ज्यादा आबादी कृषि से ही जीवनयापन कर रही है. यही मुख्य वजह है कि पिछले कुछ समय में भारत सरकार ने किसानों और पशुपालकों को लेकर लगातार योजनाएं लॉन्च की है. इन्हीं सब को देखते हुए केंद्र सरकार ने आत्मनिर्भर भारत के तहत  पशुपालन अवसंरचना विकास निधि के लिए 15000 करोड़ रूपये भी आवंटित किए हैं.

योजना के उद्देश्य

>दूध और मांस प्रसंस्करण की क्षमता और उत्पाद में विविधीकरण को बढ़ाना
>पशुपालकों को दूध और मांस पर सही रेट उपलब्ध कराना
>घरेलू उपयोग के लिए गुणवत्तापूर्ण दूध और मांस उत्पाद उपलब्ध कराना
>देश की बढ़ती आबादी की प्रोटीन समृद्ध गुणवत्ता वाले भोजन की आवश्यकता को पूरा करना
>कुपोषण को खत्म करना
>उद्यमिता विकसित करना और रोजगार पैदा करना
> दूध और मांस क्षेत्र में निर्यात योगदान बढ़ाने के लिए
> मवेशियों के  लिए सस्ते दाम पर चारा उपलब्ध कराना

पोर्टल पर जाकर बैंकों की सूची देख सकते हैं

किसान भाई केंद्र सरकार की पशुपालन अवसंरचना विकास निधि के माध्यम से लोन लेकर पशुओं से जुड़े कई निर्माण इकाइयों को स्थापित कर सकते हैं. इन निर्माण इकाइयों की स्थापना लिए वे बैंकों से लोन के रुप में 90% तक की वित्तीय सहायता बाजार से कम ब्याज दर पर प्राप्त कर सकते हैं. साथ ही किसान भाई Udayamimitra पोर्टल पर जाकर उन बैंकों की सूची भी देख सकते हैं, जो इस तरह के लोन की सुविधा देते हैं. यहां हम उन इकाइयों के बारे में बता रहे हैं जिस पर पशुपालन विभाग की तरफ से लोन की सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है.

>आइसक्रीम इकाई 
>पनीर निर्माण इकाई
> अल्ट्रा उच्च तापमान (यूएचटी) टेट्रा पैकेजिंग सुविधाओं के साथ दूध प्रसंस्करण इकाई
> फ्लेवर्ड मिल्क निर्माण इकाई
>मिल्क पाउडर निर्माण इकाई
>मट्ठा पाउडर निर्माण इकाई
>विभिन्न प्रकार के मांस प्रसंस्करण इकाई की स्थापना

कैसे करें लोन के लिए अप्लाई

AHIDF के तहत लोन के लिए अप्लाई करना बेहद ही आसान है. इसके लिए सबसे पहले Udayamimitra पोर्टल पर जाकर पंजीकरण करना होगा. जिसके बाद आपके सामने आवेदन प्रकिया को शुरू करने के लिए पेज खुलकर सामने आ जाएगा. वहां आप लोन के लिए अप्लाई कर सकते हैं. जिसके बाद पशुपालन विभाग के द्वारा आपके एप्लीकेशन की समीक्षा की जाएगी. विभाग से अनुमति मिलने के बाद, बैंक/ऋणदाता द्वारा ऋण की स्वीकृति दे दी जाएगी. जिसके बाद सभी जरूरी प्रकियाएं पूरी कर किसान के खाते में लोन की राशि ट्रांसफर कर दी जाती है. किसान भाई अगर इस योजना के बारे में अधिक जानकारी चाहते हैं तो Udayamimitra पोर्टल  पर विजिट कर हासिल कर सकते हैं,.


 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें