scorecardresearch
 

भूकंप से दहला इंडोनेशिया, निकोबार में भी महसूस किए गए झटके

इंडोनेशिया के पूर्वी भाग का उत्तरी मालुकु तट शुक्रवार को भूकंप के झटके से थर्रा उठा. भूकंप काफी शक्तिशाली था और इसकी तीव्रता रेक्टर पैमाने पर 7.1 मापी गई. अमेरिकी सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा है कि सुनामी की उम्मीद नहीं थी.

प्रतीकात्मक तस्वीर प्रतीकात्मक तस्वीर

  • इंडोनेशिया में 7.1 मापी गई तीव्रता
  • निकोबार में 5.0 तीव्रता का भूकंप

इंडोनेशिया के पूर्वी भाग का उत्तरी मालुकु तट शुक्रवार को भूकंप के झटके से थर्रा उठा. भूकंप काफी शक्तिशाली था और इसकी तीव्रता रेक्टर पैमाने पर 7.1 मापी गई. अमेरिकी सुनामी चेतावनी केंद्र ने कहा है कि सुनामी की उम्मीद नहीं थी.

समाचार एजेंसियों के मुताबिक स्थानीय समयानुसार देर रात 1.17 बजे आए भूकंप के झटके इतने तीव्र थे कि नींद में सो रहे लोग दहशत से अपने घरों के बाहर निकल आए. यूएस जियोलॉजिकल सर्वे के अनुसार भूकंप का केंद्र तटीय शहर टर्नेट से 140 किलोमीटर उत्तर-पश्चिम में था.

अमेरिकी सुनामी चेतावनी केंद्र ने विनाशकारी सुनामी आने की आशंकाओं को खारिज करते हुए कहा है कि इसकी संभावना नहीं है. वहीं इंडोनेशियाई मौसम विज्ञान केंद्र ने लोगों को समुद्र तट से दूर रहने की चेतावनी जारी की है. मौसम विज्ञान केंद्र ने यह कदम एहतियातन उठाया है.

निकोबार में भी 5.0 तीव्रता का भूकंप

भारत के निकोबार द्वीप पर भी गुरुवार की देर रात 12.01 मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए. भारतीय मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार रेक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 5.0 मापी गई.

बता दें कि इंडोनेशिया प्रशांत "रिंग ऑफ फायर" पर अपनी स्थिति के कारण लगातार भूकंप और ज्वालामुखी गतिविधियों से जूझता रहता है, जहां टेक्टोनिक प्लेटें टकराती हैं. पिछले सितंबर में भी सुलावेसी द्वीप के पलाउ में 7.5 तीव्रता का भूकंप आया था. तब भूकंप के बाद आई सुनामी से 2200 से अधिक लोग मारे गए थे और 1000 से अधिक लोग लापता हो गए थे.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें