scorecardresearch
 

लॉकडाउन 5.0 पर मनीष तिवारी बोले- कोरोना मामलों में छठे पायदान पर है भारत

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ने कहा कि जब पहली बार लॉकडाउन का ऐलान किया गया तो उस समय भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 381 थी जबकि इस जानलेवा वायरस से 7 लोगों की मौत हुई थी. अब हम लॉकडाउन खोलने की तरफ बढ़ रहे हैं और भारत कोरोना संक्रमितों के मामले में दुनिया में छठे पायदान पर आ गया है.

कांग्रेस नेता मनीष तिवारी (फोटो-चंद्रदीप कुमार/इंडिया टुडे) कांग्रेस नेता मनीष तिवारी (फोटो-चंद्रदीप कुमार/इंडिया टुडे)

  • लॉकडाउन 1.0 में संक्रमितों की संख्या 381 थी
  • कोरोना केस में दुनिया में 6वें पायदान पर भारत

देश में लॉकडाउन 5.0 का ऐलान कर दिया गया है जो एक से 30 जून तक लागू रहेगा, लेकिन इसमें पाबंदियों का दायरा काफी सिमट गया है. केंद्र सरकार ने शनिवार को 68 दिन से देशभर में जारी लॉकडाउन के बाद एक तरह से एक्जिट प्लान की जानकारी दी. कंटेनमेंट जोन के बाहर चरणबद्ध तरीके से प्रतिबंधित गतिविधियों को खोला जाएगा.

वहीं लॉकडाउन और कोरोना संक्रमण के हालात को लेकर कांग्रेस ने केंद्र सरकार को घेरा है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मनीष तिवारी ने कहा कि जब पहली बार लॉकडाउन का ऐलान किया गया तो उस समय भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या 381 थी जबकि इस जानलेवा वायरस से 7 लोगों की मौत हुई थी. अब हम लॉकडाउन खोलने की तरफ बढ़ रहे हैं और अपना देश कोरोना संक्रमितों के मामले में दुनिया में छठे पायदान पर आ गया है.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें

मनीष तिवारी ने ट्वीट किया, जब लॉकडाउन 1 लागू किया गया तब देश में कोरोना के 381 केस थे और 7 लोगों की मौत हुई थी. अब अनलॉक 1.0 का ऐलान हो चुका है तो भारत में कोरोना के 1,74, 198 केस हैं जबकि 4977 की जान जा चुकी है. हम कोरोना केस के मामले में दुनिया में 6वें पायदान पर पहुंच चुके हैं. सिरियसली इस सरकार को क्या हुआ है?

बता दें कि नए दिशानिर्देशों के मुताबिक पहले चरण में मंदिर-मस्जिद-गुरुद्वारा-चर्च खोल दिए जाएंगे. मॉल भी चरणबद्ध तरीके से खोले जाएंगे. 8 जून से सैलून-रेस्टोरेंट खुल जाएंगे. पहले चरण में मंदिर, होटल, रेस्तरां, शॉपिंग मॉल 8 जून, 2020 से खोलने की अनुमति दी जाएगी.

दूसरे चरण में केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से परामर्श के बाद राज्य स्कूल, कॉलेज, शैक्षिक संस्थान, कोचिंग, प्रशिक्षण संस्थान खोले जाएंगे. लेकिन इस दौरान कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करना होगा. लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग सुनिश्चित करनी होगी.

30 जून तक बढ़ा देशभर में लॉकडाउन, रेस्टोरेंट, धार्मिक स्थल, सैलून खोलने की इजाजत

केंद्र की गाइडलाइंस के मुताबिक राज्य सरकारें बच्चों के माता-पिता से विचार विमर्श के बाद स्कूल-कॉलेज खोलने पर फैसला कर सकते हैं. फिलहाल जुलाई से स्कूलों को खोलने का प्रयास किया जाएगा. जिस पर राज्य अपने हिसाब से फैसला ले सकते हैं. जुलाई में यह तय होगा कि स्कूल खोलने हैं या नहीं.

लॉकडाउन 5.0 में कहां मिलेगी छूट, कहां जारी रहेगी पाबंदी, यहां जानें सब

गृह मंत्रालय के दिशानिर्देश के अनुसार तीसरे चरण में अंतरराष्ट्रीय उड़ानें, मेट्रो सेवा, सिनेमा हॉल, जिम, स्वीमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिएटर, बार और ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल जैसी जगह आदि को खोलने पर विचार किया जा सकता है.

देश-दुनिया के किस हिस्से में कितना है कोरोना का कहर? यहां क्लिक कर देखें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें