scorecardresearch
 

Monsoon session: ताली-थाली पर सुधांशु त्रिवेदी का जवाब- क्या चरखा चलाने से आजादी मिली थी

बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने पूछा कि क्या चरखा चलाने से आजादी मिली थी. चरखा चलाना एक प्रतीक था. ठीक उसी तरह ताली-थाली बजाना एक प्रतीक था. 

बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी (फाइल फोटो) बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • राज्यसभा में कोरोना पर चर्चा के दौरान तीखी बहस
  • संजय सिंह ने केंद्र सरकार को घेरा
  • सुधांशु त्रिवेदी का संजय सिंह को जवाब

राज्यसभा में गुरुवार को कोरोना पर चर्चा के दौरान सांसदों में तीखी बहस देखने को मिली. विपक्ष ने जहां कोरोना को लेकर केंद्र सरकार को घेरा तो वहीं बीजेपी के सांसदों ने भी जवाब देने का कोई मौका नहीं छोड़ा. आम आदमी पार्टी (आप) के सांसद संजय सिंह ने कहा कि ताली-थाली बजाने से कोरोना ठीक हुआ हो, तो मैं प्रधानमंत्री के साथ ताली-थाली बजाने के लिए तैयार हूं. इसपर बीजेपी की ओर से सुधांशु त्रिवेदी ने मोर्चा संभाला. उन्होंने संजय सिंह से पूछा कि क्या चरखा चलाने से आजादी मिली थी. चरखा चलाना एक प्रतीक था. ठीक उसी तरह ताली-थाली बजाना एक प्रतीक था. 

बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने कहा कि कोरोना अबतक की सबसे बड़ी आपदा है. जो लोग कह रहे हैं कि क्या ताली-थाली बजाने से कोरोना खत्म हो जाएगा. मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि क्या चरखा चलाने से आजादी मिली थी. चरखा चलाना एक प्रतीक था. ठीक उसी तरह ताली-थाली बजाना एक प्रतीक था जिसके जरिए कोरोना से जंग में जुटे लोगों का मनोबल बढ़ाने की कोशिश की गई. बीजेपी सांसद ने कहा कि दिल्ली सरकार ने लॉकडाउन के दौरान दावा किया था कि दिल्ली में 70 लाख लोगों के लिए खाना बन रहा है. आखिर वो खाना कहां बनता था कि हम लोगों को दिखाई नहीं दे रहा था. 

संजय सिंह ने क्या कहा था

इससे पहले संजय सिंह ने केंद्र सरकार पर जोरदार हमला बोला. संजय सिंह ने कहा कि सदन में कल से कोरोना पर चर्चा हो रही है, लेकिन सत्ता पक्ष के लोग सिर्फ आरोप-प्रत्यारोप कर रहे हैं. सत्ता पक्ष के लोग कह रहे हैं कि विपक्ष ने ताली-थाली बजाने में सरकार का सहयोग नहीं किया. मैं कहना चाहता हूं कि एक भी ऐसी रिसर्च बता दीजिए जिसमें ताली-थाली बजाने से कोरोना ठीक हुआ हो, तो मैं प्रधानमंत्री के साथ ताली-थाली बजाने के लिए तैयार हूं. संजय सिंह ने कोरोना पर चर्चा के दौरान यूपी सरकार को निशाने पर लिया और कहा कि यूपी में कोरोना किट के नाम पर घोटाला किया गया.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें