scorecardresearch
 

मायावती को बड़ा झटका, बसपा विधानमंडल दल के नेता शाह आलम ने पार्टी से दिया इस्तीफा

बसपा विधान मंडल दल के नेता शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने भी बसपा को बाय-बाय कह दिया है. उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी. लिहाजा उन्होंने सभी पदों से भी इस्तीफा दे दिया है. शाह आलम का पार्टी छोड़ना बसपा को बड़ा झटका बताया जा रहा है. 

स्टोरी हाइलाइट्स
  • शाह आलम ने भी बसपा को कहा बाय-बाय
  • पत्र लिखकर बसपा प्रमुख मायावती को दी जानकारी

बसपा विधान मंडल दल के नेता शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने भी बसपा को बाय-बाय कह दिया है. उन्होंने बसपा सुप्रीमो मायावती को पत्र लिखकर इसकी जानकारी दी. लिहाजा उन्होंने सभी पदों से भी इस्तीफा दे दिया है. शाह आलम का पार्टी छोड़ना बसपा को बड़ा झटका बताया जा रहा है. 

उन्होंने एक पत्र लिखकर बसपा प्रमुख मायावती से कहा कि वह भारी मन से इस्तीफा दे रहे हैं. उन्होंने पत्र में जिक्र किया कि पिछले दिनों जो बातचीत हुई थी, उससे ऐसा लगता है कि आपको मेरे ऊपर विश्वास नहीं है, ऐसी स्थिति में मैं पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दे रहा हूं.

बीएसपी के मुस्लिम चेहरे के तौर पर पहचान रखने वाले शाह आलम आजमगढ़ के मुबारकपुर से दो बार विधायक रहे हैं. सूत्रों की मानें तो शाह आलम सपा का रुख कर सकते हैं. जिन 9 विधायकों को बसपा प्रमुख मायावती ने कुछ समय पहले पार्टी से निकाला था, उसमें भले ही शाह आलम शामिल नहीं थे, लेकिन बसपा के भीतर बड़ा खेमा सपा कार्यकर्ताओं का दिख रहा है, क्योंकि पार्टी से बाहर किए गए विधायकों में से वंदना सिंह को छोड़कर सभी ने समाजवादी पार्टी का रुख अख्तियार किया है.

बसपा विधानमंडल दल के नेता शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने पार्टी के विधान मंडल दल के नेता तथा दूसरे पदों से इस्तीफा देते हुए मायावती को पत्र में लिखा कि आपने दो बार विधायक बनाया, एक बार सांसद बनाया. लेकिन पिछले दिनों जो बातचीत हुई है, उससे लगता है आपको मुझ पर विश्वास नहीं रह गया है.

दूसरी पार्टी में जाने की अटकलों पर विराम
विधायक शाह आलम ने बसपा सुप्रीमो मायावती को लेटर जारी कर पार्टी से इस्तीफे की पुष्टि की है. उन्होंने आजतक से कहा कि मान-सम्मान के साथ काम करने के लिए राजनीति से जुड़ा हूं. इसके साथ ही किसी दूसरी पार्टी में शामिल होने की अटकलों पर शाह आलम ने कहा कि वह अभी किसी दूसरे दल या पार्टी को ज्वाइन नहीं कर रहे हैं. 


बसपा ने कहा- इस वजह से जमाली ने छोड़ी पार्टी
बसपा विधायक शाह आलम उर्फ गुड्डू जमाली के पार्टी छोड़ने के बाद बीएसपी की ओर से बयान जारी किया गया है. इसमें कहा गया है कि गुड्डू जमाली के खिलाफ उनकी कंपनी में काम करने वाली किसी लड़की ने मामला दर्ज कराया था और वह मायावती से मिलकर मामले को खत्म कराने का दबाव बना रहे थे. वह चाहते थे कि मायावती सरकार से बात कर इस केस को खत्म कराएं, लेकिन मायावती ने उन्हें न्याय न मिलने पर अदालत की शरण में जाने का सुझाव दिया था, इसी वजह से उन्होंने पार्टी के सभी पदों से इस्तीफा दिया है.

ये भी पढ़ें

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×