scorecardresearch
 

पांच साल से ऊपर के बच्चों को कोरोना वैक्सीन कब? आज बूस्टर डोज का गैप भी हो सकता है कम

पांच साल से ऊपर के बच्चों को कोरोना टीका लगेगा यह तय हो चुका है, लेकिन यह टीकाकरण कब से होगा यह साफ नहीं है. दूसरी तरफ बूस्टर डोज के गैप को भी कम किया जा सकता है ऐसी चर्चा है.

X
5 साल से ऊपर के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन लगेगी यह तय हो चुका है (फाइल फोटो) 5 साल से ऊपर के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन लगेगी यह तय हो चुका है (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कोरोना बूस्टर डोज फिलहाल दूसरी खुराक के 9 महीने बाद लगती है
  • इस गैप को 9 से घटाकर 6 महीने किया जा सकता है
  • 5 से 12 साल के बच्चों को Corbevax और Covaxin लगेगी

कोरोना की चौथी लहर की आशंका के बीच महामारी से निपटने की पुख्ता तैयारियां की जा रही हैं. इसी कड़ी में आज बड़ी बैठक होनी है. इसमें तय हो सकता है कि पांच साल से ऊपर के बच्चों का वैक्सीनेशन कब से शुरू होगा. इसके साथ ही बूस्टर डोज के गैप को कम करके 6 महीने किया जा सकता है. फिलहाल यह गैप 9 महीने का है.

कोविड संकट पर आज NTAGI (National Technical Advisory Group on Immunisation) की बड़ी मीटिंग होनी है. जानकारी के मुताबिक, इसमें कोविड वैक्सीन की दूसरी खुराक और बूस्टर डोज के बीच के गैप को कम किया जा सकता है. फिलहाल दूसरी खुराक और बूस्टर डोज के बीच का गैप 9 महीने का है. इसे 6 महीने का किया जा सकता है.

बच्चों को कब से लगेगी वैक्सीन?

बता दें कि 5 साल से ऊपर को कोरोना वैक्सीन लगाने का फैसला सरकार कर चुकी है. इससे पहले तक 12 साल से ऊपर के बच्चों को कोरोना टीका लग रहा था. इसी मंगलवार ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने फैसला लिया था कि 5 साल से ऊपर के बच्चों को वैक्सीन लगेगी. लेकिन अभी यह नहीं बताया गया है कि बच्चों का टीकाकरण कब से शुरू होगा.

यह भी पढ़ें - जानवरों से इंसानों में बार-बार वापसी कर रहे कोरोना के नए वैरिएंट... साइंटिस्ट नए खतरे की ओर कर रहे इशारा

12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए भारत में दो कोरोना टीके को मंजूरी मिली है. बताया गया है कि 5-12 साल के बच्चों को Corbevax और 6-12 साल के बच्चों को Covaxin का टीका लगेगा.

DCGI ने इनको आपातकालीन इस्तेमाल की मंजूरी दे दी है. इसके साथ-साथ 12 से ऊपर के आयुवर्ग के लिए 'ZyCoV-D' की 2 डोज वाली वैक्सीन को मंजूरी मिल गई है.

बता दें कि कोरोना की बाकी लहरों में बच्चों पर ज्यादा गंभीर नहीं हुआ था, लेकिन इस बार बच्चे इस नए XE वेरिएंट की चपेट में आ रहे हैं. खासतौर से स्कूल खुलने के बाद इन मामलों में बढ़ोतरी की और आशंका जताई जा रही है. हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि पिछले तीन हफ्तों में बच्चों में फ्लू जैसे लक्षणों में बढ़ोतरी नजर आई है.

कोरोना के मामले बढ़ रहे

भारत में कोरोना के मामले स्पीड पकड़ रहे हैं. पिछले 24 घंटों में COVID19 के 3,377 नए मामले सामने आए हैं वहीं 60 लोगों की मौत हुई है. वहीं 2,496 लोगों ने कोरोना को हराया है. अभी देश में कोरोना के 17,801 एक्टिव मरीज हैं. भारत में 188 करोड़ के करीब लोगों को कोरोना टीका लगाया जा चुका है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें