scorecardresearch
 

Gilbert Jessop: गुजरे जमाने के इस तगड़े हिटर ने बनाए एक से बढ़कर एक रिकॉर्ड, जानकर रह जाएंगे दंग

क्रिकेट की दुनिया में कई ऐसे तगड़े हिटर हुए, जिन्होंने अपनी ताबड़तोड़ बल्लेबाजी से खूब सुर्खियां बटोरीं. इस कड़ी में इंग्लैंड के गिलबर्ट जेसप का नाम शामिल है. उन्होंने अपने बल्ले से कई कीर्तिमान बनाए, जो आज भी रिकॉर्ड बुक में शामिल हैं.

X
Gilbert Jessop (Getty) Gilbert Jessop (Getty)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इंग्लैंड के हिटर गिलबर्ट जेसप का जन्मदिन
  • जिनके कारनामे आज भी रोमांचित करते हैं

गेंदबाजों के छक्के छुड़ाने वाले बल्लेबाजों ने हमेशा सुर्खियां बटोरी हैं. क्रिकेट की दुनिया में कई ऐसे तगड़े हिटर हुए, जिन्होंने मैदान पर अपने प्रहारों से खूब वाहवाही लूटी. इसी कड़ी में गुजरे जमाने के एक ऐसे हिटर का नाम जुड़ा है, जिसके कारनामे आज भी रोमांचित करते हैं. इंग्लैंड के गिलबर्ट जेसप, जिन्होंने 1894 से लेकर 1914 में विश्व युद्ध की शुरुआत तक 493 फर्स्ट क्लास मैचों के करियर के दौरान अपनी हैरतअंगेज बल्लेबाजी से कई बार चौंकाया. अजीबोगरीब स्टांस के साथ पिच पर बल्ला पकड़ने वाला यह बल्लेबाज आज ही के दिन (19 मई) 1874 में पैदा हुआ था. 

गिलबर्ट जेसप ने 20 साल की उम्र में ग्लॉस्टरशायर के लिए शुरुआत की. वह उस वक्त बल्लेबाजी के लिए उतरे थे, जब गेंदबाज हैट्रिक पर था, लेकिन उन्होंने चौका जड़कर अपने इरादे जाहिर कर दिए. इतना ही नहीं, अपनी डेब्यू पारी के उस पहले ओवर में उन्होंने एक और चौका लगाकर सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा.  

पांच फुट सात इंच के गिलबर्ट जेसप ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट में 53 शतक जमाए, जो एक घंटे में लगभग 83 रनों की अविश्वसनीय औसत से बने थे. जिनमें से 12 बार शतक ऐसे रहे, जब उन्होंने घंटेभर में यह जादुई आंकड़ा छू लिया था. जेसप ने 1897 में यॉर्कशायर के खिलाफ 40 मिनट में शतक जड़ दिया था, जो उनका सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड रहा. प्रथम श्रेणी क्रिकेट में आज भी उनका यह शतक सबसे तेज (सबसे कम मिनट में) के मामले में संयुक्त रूप से दूसरे नंबर पर है. 

फर्स्ट क्लास क्रिकेट: सबसे तेज शतक- मिनट में

1. पी. फेंडर (113*) - 35 मिनट में ( सरे विरुद्ध नॉर्थेम्पटनशायर) 1920  

2. गिलबर्ट जेसप (101) - 40 मिनट में ( ग्लॉस्टरशायर विरुद्ध यॉर्कशायर) 1897

-अहसान उल हक (100*) - 40 मिनट में, लाहौर टूर्नामेंट में (1923-24)  

गिलबर्ट जेसप ने 1903 में काउंटी चैम्पियनशिप के दौरान तो कमाल ही कर दिया, जब उन्होंने ससेक्स के खिलाफ तीन घंटे से सभी कम समय में (170 मिनट) में 286 रनों की अभूतपूर्व पारी खेली थी. 

जेसप ने 286 रनों की पारी के दौरान अपना दोहरा शतक महज दो घंटे (120 मिनट) में पूरा किया था, जो उस वक्त का वर्ल्ड रिकॉर्ड रहा. मिनट के लिहाज से सबसे तेज दोहरे शतक की बात करें, तो आज भी गिलबर्ट जोसफ संयुक्त रूप से तीसरे स्थान पर ठहरते हैं.  

फर्स्ट क्लास क्रिकेट: सबसे तेज दोहरा शतक- मिनट में

1. शफीकुल्लाह (200*) - 103 मिनट में (काबुल रीजन विरुद्ध बूस्ट रीजन) 2017-18 

2. रवि शास्त्री (200*) - 113 मिनट में (मुंबई विरुद्ध बड़ौदा) 1984-85

3. गिलबर्ट जेसप (286) - 120 मिनट में ( ग्लॉस्टरशायर विरुद्ध ससेक्स) 1903 

- क्लाइव लॉयड (201*) - 120 मिनट में ( वेस्टइंडीज विरुद्ध ग्लेमॉर्गन) 

इंग्लैंड की ओर से गिलबर्ट जेसप 18 टेस्ट मैच ही खेल पाए, और एक ही शतक जमाया. लेकिन 1902 के ओवल टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ उनका यह शतक बेहद रोमांचक रहा. 263 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए इंग्लैंड ने एक समय 10 रनों पर तीन विकेट और 48 रनों पर पांच विकेट गंवा दिए थे. इसके बाद जेसप उतरे और धमाका कर दिया.

जेसप ने 77 मिनट में 104 रनों (76 गेंद ) की पारी खेली और मेजबान टीम ने यह मुकाबला एक विकेट से जीत लिया. टेस्ट मैचों में मिनट के लिहाज से यह सबसे तेज शतक साबित हुआ. आज भी उनका यह रिकॉर्ड तीसरे नंबर पर है.  

टेस्ट मैचः सबसे तेज शतक- मिनट में

1. जैक ग्रेगरी (ऑस्ट्रेलिया), 70 मिनट में, विरुद्ध साउथ अफ्रीका, 1921/22 जोहानिसबर्ग

2. मिस्बाह उल हक (पाकिस्तान), 74 मिनट में, विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया, 2014/15 अबु धाबी

3. गिलबर्ट जेसप (इंग्लैंड), 77 मिनट में , विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया, 1902 द ओवल

जेसप को 20 साल के करियर के बाद खराब स्वास्थ्य के कारण क्रिकेट को अलविदा कहना पड़ा. 80 साल की उम्र 1955 में उनका निधन हुआ.  

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें