scorecardresearch
 

Masik Shivratri 2021: मासिक शिवरात्रि आज, इस पूजन विधि से प्रसन्न होंगे भोलेनाथ

मासिक शिवरात्रि का व्रत बहुत प्रभावशाली होता है. इस दिन उपवास रखने और भगवान शिव की सच्चे मन से आराधना करने से सारी मनोमनाएं पूरी हो जाती हैं. ये व्रत रखने और पूजा करने वाले लोगों की सारी समस्याएं दूर होती हैं.

आज मनाई जा रही है मासिक शिवरात्रि आज मनाई जा रही है मासिक शिवरात्रि
स्टोरी हाइलाइट्स
  • मासिक शिवरात्रि आज
  • शिव चालीसा पाठ से होगा लाभ
  • इस विधि से प्रसन्न होंगे भोलेनाथ

आज मासिक शिवरात्रि मनाई जा रही है. हिंदू पंचाग के अनुसार हर महीने कृष्ण पक्ष की चतुर्दशी को मासिक शिवरात्रि मनाई जाती है. मासिक शिवरात्रि हर महीने जबकि महाशिवरात्रि साल में एक बार मनाई जाती है. मासिक त्योहारों में शिवरात्रि के व्रत का बहुत महत्व होता है.  इस दिन भगवान शिव की आराधना कर आप महावरदान की प्राप्ति कर सकते हैं. 

शिव चालीसा का करें पाठ


मासिक शिवरात्रि के दिन शिव चालीसा का बहुत महत्व होता है. शिव चालीसा के सरल शब्दों से भगवान शिव को प्रसन्न किया जा सकता है. शिव चालीसा के पाठ से कठिन से कठिन कार्य को बहुत ही आसानी से किया जा सकता है. शिव चालीसा की 40 पंक्तियां सरल शब्दों में विद्यमान है जिनकी महिमा बहुत ही ज्यादा है. मान्यता है कि शिव चालीसा का पाठ करने वालों के सभी भय खत्म हो जाते है. 

 

ऐसे करें शिव चालीसा का पाठ 


सुबह जल्दी उठकर स्नान करें और साफ कपड़े पहनें. अपना मुंह पूर्व दिशा में रखें और कुशा के आसन पर बैठें. पूजन में सफेद चंदन, चावल, कलावा, धूप-दीप, पीले फूलों की माला और हो सके तो सफेद आक के 11 फूल भी रखें. शुद्ध मिश्री को प्रसाद के लिए रखें. पाठ करने से पहले धूप दीप जलायें और एक लोटे में शुद्ध जल भरकर रखें. भगवान शिव की शिव चालिसा का तीन या पांच बार पाठ करें. पाठ पूरा हो जाने पर लोटे का जल सारे घर मे छिड़क दें. थोड़ा सा जल स्वयं पी लें और मिश्री प्रसाद के रूप में खाएं और बच्चों में भी बांट दें. 

मासिक शिवरात्रि का महत्व


माना जाता है कि मासिक शिवरात्रि का व्रत बहुत प्रभावशाली होता है. इस दिन उपवास रखने और भगवान शिव की सच्चे मन से आराधना करने से सारी मनोमनाएं पूरी हो जाती हैं. ये व्रत रखने और पूजा करने वाले लोगों की सारी समस्याएं दूर होती हैं. मान्यता है कि मासिक शिवरात्रि का व्रत करने से मनोवांछित वर की प्राप्ति होती है और विवाह में आ रही रुकावटें दूर होती हैं. मासिक शिवरात्रि के दिन शिव चालीसा का बहुत महत्व होता है. शिव चालीसा के सरल शब्दों से भगवान शिव को प्रसन्न किया जा सकता है. 

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें