scorecardresearch
 
सेहत

Diabetes Food: इन चीजों से कंट्रोल हो सकती है डायबिटीज, सर्दियों में फायदे ज्यादा

कैसे कंट्रोल करें डायबिटीज?
  • 1/10

डायबिटीज (Diabetes) की घातक बीमारी के चलत हर साल पूरी दुनिया में लाखों लोगों की मौत होती है. डायबिटीज इंसान के शरीर में किसी भी घातक बीमारी को ट्रिगर कर सकता है. इसके प्रति लोगों को जागरुक करने के लिए हर साल 14 नवंबर को 'वर्ल्ड डायबिटीज डे' (World Diabetes day) मनाया जाता है. 14 नवंबर के दिन डायबिटीज डे मनाने के पीछ एक खास वजह भी है.

Photo: Getty Images

किसने किया इंसुलिन का आविष्कार?
  • 2/10

1922 में फेडरिक बेंटिंग नाम के वैज्ञानिक ने डायबिटीज की रोकथाम के लिए इंसुलिन (Insulin) का आविष्कार किया था. 14 नवंबर इन्हीं की जन्म तिथि है, जिसे WHO और इंटरनेशनल डायबिटीज फेडरेशन (IDF) ने 1991 में वर्ल्ड डायबिटीज-डे के रूप में सेलिब्रेट करना शुरू किया था. इंसुलिन खून में शुगर को ऊर्जा में परिवर्तित करता है, इसीलिए डायबिटीज के रोगियों को इंसुलिन की अतिरिक्‍त खुराक दी जाती है. पैंक्रियाज जब सही से काम नहीं करता तो रक्त कोशिकाओं को पर्याप्त ऊर्जा नहीं मिल पाती हैं. तब इंसुलिन शुगर से ऊर्जा बनाने का काम करता है.

शुगर लेवल बढ़ने के कारण?
  • 3/10

एक्सपर्ट मानते हैं कि खून में शुगर बढ़ने के कई कारण होते हैं. जंक फूड ज्यादा खाने, ज्यादा चाशनी वाली चीजें, ज्यादा प्रोटीन वाली चीजें और ग्लाइसेमिक वाली चीजें कम खाने से शुगर लेवल बढ़ सकता है. ये सारा दोष हमारे खराब लाइफस्टाइल का है.

हरी पत्तेदार सब्जियां
  • 4/10

डायबिटीज के खतरे से बचने के लिए हमें हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए. पालक, करेला, ब्रोकली, गाजर, मेथी, बंदगोभी, टमाटर, शतावरी, खीरा, हरी बीन्स और बथुआ जैसी चीजें खाएं. ये सभी चीजें डायबिटीज में बड़ी फायदेमंद होती हैं. इनमें मौजूद एटीऑक्सीडेंट्स आपके दिल और आखों को स्वस्थ रखते हैं.

स्टार्क वाली सब्जियां न खाएं
  • 5/10

खून में शुगर लेवल बढ़ने पर ज्यादा स्टार्क वाली सब्जियां नहीं खानी चाहिए. डायबिटीज की शिकायत होने पर आलू, फूलगोभी, मक्का, सेम की फली, मटर, छोले, मसूर की दाल, कद्दू, शलगम और शकरकंद जैसी चीजें खाने से बचना चाहिए.

फल
  • 6/10

ब्लड शुगर को कंट्रोल रखने के लिए कम कार्ब्स वाले फल खाने की सलाह दी जाती है. ऐसे में आप एवोकाडो, ब्लैकबैरी, रास्पबैरी, खरबूजा, स्ट्रॉबैरी, ब्लूबैरी, नींबू, नारियल, जैतून, स्टार फ्रूट, बेर, कीवी, चैरी, आड़ू और अमरूद खाने की सलाह दी जाती है.

बादाम-अखरोट
  • 7/10

बादाम-अखरोट जैसी मेवा न सिर्फ आपके कार्डियोवस्कुलर हेल्थ के लिए अच्छे हैं, बल्कि ये खून में शुगर लेवल को भी बैलेंस रखते हैं. बादाम, अखरोट, पीकन, मैकाडामिया, काजू और मूंगफली जैसी मेवा में ओमेगा-6 पाया जाता है जो शरीर के लिए बेहद फायदेमंद है.

मछली
  • 8/10

मांस-मछली खाने के शौकीन लोगों को डाइट में विटामिन-डी और ओमेगा-3 फैटी एसिड शामिल कर लेना चाहिए. डायबिटीज में इससे शरीर को बड़े फायदे होते हैं. साल्मन, सरडाइन, झींगा और ट्राउट मछली में सबसे ज्यादा ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है. रेड मीट खाने से बचें.

तेल और फैट
  • 9/10

डायबिटीज के रोगियों को घी, तेल, रिफाइंड जैसे चिकने पदार्थों का इस्तेमाल बहुत सोच-समझकर करना चाहिए. ऐसे तेल या फैट का इस्तेमाल करें जो एंटी इन्फ्लेमेटरी सैचुरेटड हों. प्रो-इन्फ्लेमेटरी पॉलीअनसैचुरेटड वाला तेल या फैट खाने से बचें.

अंडा और डेयरी प्रोडक्ट
  • 10/10

अंडा और डेयरी प्रोडक्ट्स सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं, लेकिन आजकल इनमें भी तरह-तरह के कैमिकल्स का इस्तेमाल होने लगा है, इसलिए सतर्क रहें. अगर दूध छोड़ सकें तो बेहतर होगा. इसकी जगह यॉगर्ट या पनीर जैसी चीजों को डाइट में शामिल करें.