scorecardresearch
 

'तेजस्वी के बिना सुधार न होई और लालू के बिना...', इस गाने से खेसारी लाल यादव का क्या इशारा?

तेजस्वी के लिए गाए गए इस गाने के बोल जहां राजद नेताओं के कानों में राजनीतिक रस घोल रहे हैं. वहीं जदयू के नेता गाने का नाम सुनकर ही मुंह बिदकाने लगे हैं. गाने के बोल है. 'तेजस्वी बिना सुधार ना होई और लालू बिना चालू बिहार ना होई'.

तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव (फाइल फोटो) तेजस्वी यादव और तेज प्रताप यादव (फाइल फोटो)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • खेसारी लाल का नया गाना तेजी से वायरल हो रहा है
  • भोजपुरी गानों से वोटर्स को साधने की चल रही नई लहर

केंद्र की राजनीति हो या फिर पूर्वांचल और बिहार की... हाल के दिनों में भोजपुरी भाषी मतदाताओं को रिझाने के लिए नेताओं ने समय-समय पर गायकों का सहारा जरूर लिया है. गायक और बीजेपी नेता मनोज तिवारी से शुरू हुआ सिलसिला रवि किशन से होते हुए निरहुआ और अब खेसारी लाल यादव तक पहुंच गया है. ताजा मामला है भोजपुरी गायक खेसारी के गानों में बिहार में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव के अपना राजनीतिक भविष्य तलाशने का. बिहार के सियासी गलियारों में चर्चा है कि खेसारी ने अपने एक गाने के जरिए तेजस्वी के गुट में एंट्री मार ली है. बस अब पार्टी की ओर से आधिकारिक मुहर लगनी बाकी है. 

तेजस्वी के लिए खेसारी का एक्सक्लूसिव गाना

ग्रामीण इलाकों में चर्चित खेसारी लाल यादव ने तेजस्वी के लिए एक गाना गाया है. खेसारी का ये गाना देखते ही देखते वायरल हो गया है. इस गाने को मात्र 24 घंटे में 10 लाख से ज्यादा लाइक मिल चुके हैं. तेजस्वी के लिए गाए गए इस गाने के बोल जहां राजद नेताओं के कानों में राजनीतिक रस घोल रहे हैं. वहीं जदयू के नेता गाने का नाम सुनकर ही मुंह बिदकाने लगे हैं. गाने के बोल है. 'तेजस्वी बिना सुधार ना होई और लालू बिना चालू बिहार ना होई'. इस गाने को लोग खूब सुन रहे हैं और पसंद भी कर रहे हैं. खेसारी का ये गाना रिकॉर्ड समय में पॉपुलर होता हुआ दिख रहा है.


 
'लालू बिना चालू ई बिहार ना होई'

हालांकि, खेसारी लाल यादव ने ये गाना राजद नेता अनिल सम्राट के लिए गाया है. लेकिन कहा जा रहा है कि खेसारी ने अनिल सम्राट के जरिए सियासी रूप से तेजस्वी को साधने की कोशिश की है. गाने के आगे के बोल हैं. लईका और बुढ़वा जवान बोलतावे, महंगी के नाव पर बाजार डोलतावे. तेजस्वी के बिना सुधार ना होई. गाना सोशल मीडिया पर पूरी तरह से वायरल हो चुका है. गाने के बैकग्राउंड में तेजस्वी और तेज प्रताप के वो वीडियो लगाए गए हैं. जब दोनों भाई सार्वजनिक मंच पर दिख रहे हैं. इस वीडियो में तेजस्वी की पत्नी को कंबल बांटते हुए दर्शाया गया है.
 
गाने में बिहार की स्थिति पर तंज

खेसारी ने अपने गाने में बिहार की सियासत के लिए तेजस्वी और लालू परिवार को जरूरी बताते हुए. सभी समस्या का समाधान लालू परिवार में खोजने की कोशिश की है. गाने में आर्थिक, सामाजिक और राजनीतिक के साथ बिहार के पिछड़ेपन का कारण वर्तमान सरकार को बताते हुए तेजस्वी को लाने की अपील की गई है. गाना सोशल मीडिया पर खूब सुना जा रहा है. राजद नेता अनिल सम्राट को तेजस्वी का बेहद करीबी बताया जाता है. अनिल ने तेजस्वी का अपनी पत्नी के साथ पटना पहुंचने पर सभी चौक-चौराहे को पोस्टर से पाट दिया था. हाल में अनिल सम्राट का टिकट राजद ने विधान परिषद के चुनाव में भोजपुर से कंफर्म किया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×