scorecardresearch
 

यूपी: कांग्रेस प्रत्याशी युसूफ अली ने छोड़ा पार्टी का दामन, अब करेंगे 'साइकिल' पर सवारी

हाल ही में कांग्रेस ने यूपी चुनाव को लेकर अपने पहले 125 कैंडिडेट के नामों की लिस्ट शेयर की थी. जिसमें युसूफ अली को रामपुर की चमरौआ सीट से प्रत्याशी बनाया गया था. लेकिन अब ऐन समय पर युसूफ अली ने शुक्रवार को लखनऊ में हुए कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है. 

स्टोरी हाइलाइट्स
  • कांग्रेस ने रामपुर की चमरौआ सीट से बनाया था युसूफ को प्रत्याशी
  • शुक्रवार को लखनऊ में अखिलेश ने दिलाई सदस्यता

यूपी चुनाव से पहले आयाराम-गयाराम का खेल जारी है. हाल ही में बीजेपी से  कई मंत्री और विधायक पार्टी का साथ छोड़ समाजवादी का दामन थाम चुके हैं तो वहीं अब यूपी के रामपुर की चमरौआ सीट से कांग्रेस प्रत्याशी युसूफ अली पार्टी से इस्तीफा देकर सपा में शामिल हो गए हैं. 

हाल ही में कांग्रेस ने यूपी चुनाव को लेकर अपने पहले 125 कैंडिडेट के नामों की लिस्ट शेयर की थी. जिसमें युसूफ अली को रामपुर की चमरौआ सीट से प्रत्याशी बनाया गया था. लेकिन अब ऐन समय पर युसूफ अली ने शुक्रवार को लखनऊ में हुए कार्यक्रम में समाजवादी पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर ली है. 

आपको बता दें कि स्वामी प्रसाद मौर्य समेत भारतीय जनता पार्टी के बागी नेता आज शुक्रवार को समाजवादी पार्टी में शामिल हो गए. सपा ने अपने कार्यालय में हुए इस कार्यक्रम को वर्चुअल रैली का नाम दिया था, लेकिन वहां भारी भीड़ मौजूद थी. अखिलेश यादव इसकी वजह से मुश्किल में फंस सकते हैं क्योंकि लखनऊ के डीएम ने इस पर जांच के आदेश दे दिए हैं.
 



लखनऊ के जिलाधिकारी अभिषेक प्रकाश का कहना है कि समाजवादी पार्टी का कार्यक्रम बिना अनुमति के हुआ. सूचना मिलने पर मजिस्ट्रेट के साथ पुलिस टीम को सपा दफ़्तर भेजा गया. रिपोर्ट के आधार पर ज़रूरी कार्रवाई की जाएगी.

ऐसे में लखनऊ समाजवादी पार्टी कार्यालय के बाहर भीड़ इकट्ठा करने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर भीड़ को हटाया. जानकारी के मुताबिक कोविड-19 का पालन कराने के लिए पुलिस ने भीड़ को हटाने कार्यालय पहुंची थी. पुलिस और प्रशासन, कोविड नियमों को फॉलो कराने के लिए लगातार ऐसी जगहों पर मॉनिटर कर लोगों को तितर-बितर कर रहा है.

कमिश्नर लखनऊ डीके ठाकुर के मुताबिक, जहां पर भी भीड़ इकट्ठा हो रही है वहां पर पुलिस को भेजकर कोविड के नियमों का पालन करवाया जा रहा है. सपा कार्यालय के बाहर भी सोशल मीडिया पर सूचना मिली थी जिसके बाद पुलिस को भेजकर कोविड प्रोटोकाल का पालन करवाया गया था.

 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×