scorecardresearch
 

Aurangabad: प्रथम चरण का चुनाव कराने के बाद EVM जमा कराने की प्रक्रिया से टेंशन में मतदान कर्मी

बिहार विधानसभा 2020 के प्रथम चरण का मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हो गया. मतदान कर्मियों द्वारा ईवीएम जमा कराने की प्रक्रिया चल रही है. औरंगाबाद में ईवीएम जमा कराने वाले मतदान कर्मियों का कहना है कि उनकी टेंशन अब और भी बढ़ गई है.

EVM जमा कराने की प्रक्रिया से टेंशन में मतदान कर्मी (फोटो आजतक) EVM जमा कराने की प्रक्रिया से टेंशन में मतदान कर्मी (फोटो आजतक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • ईवीएम जमा करने के लिए नहीं मिल रही सही जानकारी
  • मतदान कर्मी बोले 14 से 15 घंटे का लग रहा समय

बिहार विधानसभा 2020 के प्रथम चरण का मतदान शांतिपूर्वक संपन्न हो गया. मतदान कर्मियों द्वारा ईवीएम जमा कराने की प्रक्रिया चल रही है. औरंगाबाद में ईवीएम जमा कराने वाले मतदान कर्मियों का कहना है कि उनकी टेंशन अब और भी बढ़ गई है. ईवीएम जमा कराने के लिए सही जानकारी नहीं मिल रही है, जिसके चलते परेशान हैं. 

औरंगाबाद में गोह और नबीनगर विधानसभा के ईवीएम 14 से 15 घंटे बीत जाने के बाद भी जमा नहीं हो सके. इसे लेकर मतदान कर्मियों का कहना है कि लोकतंत्र के इस महापर्व में कार्य करना गर्व की बात है, लेकिन व्यवस्थाओं के अभाव में अब परेशानियां भी झेलनी पड़ रही हैं. 

ईवीएम 14 से 15 घंटे बीत जाने के बाद भी जमा नहीं हो सके

मतदान कर्मियों ने व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा कि ईवीएम जमा करने की व्यवस्था सहज और सरल होनी चाहिए. इसके लिए कलेक्शन काउंटर के पास सूचना पट्ट के माध्यम से सही जानकारी मिलनी चाहिये, लेकिन यहां तो कोई व्यवस्था ही नहीं है. 

देखें: आजतक LIVE TV

मतदान कर्मियों का कहना है कि काउंटर पर पहुंचने के बाद हमें वापस लौटना पड़ रहा है. ईवीएम जमा कराने की प्रक्रिया में शामिल कर्मचारियों द्वारा सहयोग नहीं किया जा रहा है. चुनाव ड्यूटी के बाद काफी हारे थके हुए हैं, इसके बाद यहां ईवीएम जमा कराने के लिए भी परेशान होना पड़ रहा है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें