scorecardresearch
 

Railway Recruitment 2022: 10वीं पास युवाओं के लिए रेलवे चला रहा है यह योजना, मिलेगा मुफ्त प्रशिक्षण

Rail Kaushal Vikas Yojana 2022: रेल कौशल विकास योजना के अन्तर्गत भारतीय रेल के 17 जोन एवं 07 उत्पादन इकाइयों के 75 प्रशिक्षण केंद्रों में 18 कार्य दिवस में 100 घंटे का प्रशिक्षण दिया जा रहा है.

Railway Ministry Railway Ministry
स्टोरी हाइलाइट्स
  • कैंडिडेट को दिया जाता है 100 घंटे का प्रशिक्षण
  • उम्मीदवारों को मुफ्त में दिया जा रहा है प्रशिक्षण

Rail Kaushal Vikas Yojana 2022: भारतीय रेलवे बेरोजगार युवाओं को स्वावलंबी और आत्मनिर्भर बनाने के मकसद से रेलवे कौशल विकास योजना चला रहा है. भारतीय रेल में "रेल कौशल विकास योजना" की शुरुआत 17 सितंबर 2021 को रेल, संचार एवं इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री, भारत सरकार द्वारा की गई थी.

इस योजना का मूल उद्देश्य युवाओं को विभिन्न ट्रेडों में गुणात्मक सुधार लाने के लिए प्रशिक्षण प्रदान करना है. यह कौशल युवाओं की रोजगार क्षमता में सुधार करेगा. रेल कौशल विकास योजना के अन्तर्गत भारतीय रेल के 17 जोन एवं 07 उत्पादन इकाइयों के 75 प्रशिक्षण केंद्रों में 18 कार्य दिवस में 100 घंटे का प्रशिक्षण दिया जा रहा है.

18 से 35 आयु वर्ग के युवा जो 10वीं कक्षा पास कर चुके हैं, योग्यता के आधार पर निःशुल्क प्रशिक्षण प्राप्त कर सकते हैं. यह योजना युवाओं के रोजगार क्षमता में सुधार तथा स्वरोजगार के इच्छुक युवाओं के कौशल को उन्नत करेगा.

रेल कौशल विकास योजना के लिए प्रशिक्षुओं का चयन खुले विज्ञापन और पारदर्शी शॉर्ट-लिस्टिंग के माध्यम से किया जाता है. ट्रेनी उम्मीदवारों को 100 घंटे का प्रैक्टिकल और सैद्धांतिक प्रशिक्षण दिया जाता है. इसके बाद सफल प्रशिक्षुओं को प्रमाण पत्र प्रदान किया जाता है.

इसी चरण में पूर्व मध्य रेल द्वारा द्वारा रेल कौशल विकास योजना के अन्तर्गत युवाओं को उद्योग आधारित प्रशिक्षण प्रदान कर कुशल एवं रोजगार के लिए सक्षम बनाने के प्रयास के तहत 20 दिसंबर 2021 से 10 जनवरी 2022 तक प्रशिक्षण देने के बाद पूर्व मध्य रेल के विभिन्न  प्रशिक्षण केंद्रों द्वारा 10 एवं 11 जनवरी, 2022 को कुल 82 प्रशिक्षणार्थियों को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया. इसके साथ पूर्व मध्य रेल द्वारा तीन चरणों में अब तक कुल 228 प्रशिक्षणा प्राप्त कैंडिडेट को प्रमाण पत्र प्रदान किये गए हैं.

पंडित दीन दयाल उपाध्याय मंडल के विद्युत कर्षण प्रशिक्षण केंद्र में 11 जनवरी 2022 को इलेक्ट्रीशियन ट्रेड में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले तीसरे बैच के 16 प्रशिक्षणार्थियों को तथा सवारी डिब्बा मरम्मत कारखाना, हरनौत में मशीनिस्ट तथा वेल्डर कैटेगरी के क्रमशः 17 एवं 19 प्रशिक्षुओं को प्रमाण पत्र प्रदान किया गया. इसी क्रम में समस्तीपुर मंडल के पर्यवेक्षक प्रशिक्षण केन्द्र में फिटर ट्रेड में प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले कुल 19 तथा दानापुर मंडल के सिग्नल एवं दूरसंचार प्रशिक्षण केंद्र में 11 प्रशिक्षणार्थियों को प्रशिक्षण के उपरांत प्रमाण पत्र प्रदान किया गया.

पूर्व मध्य रेल के सीपीआरओ राजेश कुमार ने बताया कि रेल कौशल विकास योजना के तहत प्रशिक्षण लेने के इच्छुक युवा railkvy.indianrailways.gov.in पर विजिट कर ट्रेड से जुड़ी समस्त जानकारी, प्रशिक्षण संस्थान का विवरण, ऑनलाइन आवेदन पत्र सहित अन्य सभी सूचनाएं आसानीपूर्वक प्राप्त कर सकते हैं.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×