scorecardresearch
 

लद्दाख में JCB में बैठ नदी पार कर रहे कोविड वॉरियर्स, ट्विटर पर लोगों ने किया जज्बे को सलाम

लद्दाख में डॉक्टरों का एक ग्रुप जेसीबी में बैठकर नदी को पार कर रहा है, क्योंकि लद्दाख के ग्रामीण इलाके में जाने का कोई और रास्ता नहीं था. ऐसे में पीपीई किट पहने हुए डॉक्टर्स जेसीबी में बैठकर ही चल पड़े. 

ट्विटर पर चर्चा का विषय बनी ये तस्वीर ट्विटर पर चर्चा का विषय बनी ये तस्वीर
स्टोरी हाइलाइट्स
  • लद्दाख से सामने आई तस्वीर की ट्विटर पर चर्चा
  • ग्रामीण इलाकों में जाने के लिए जेसीबी की सहारा

कोरोना के खिलाफ जारी लड़ाई में स्वास्थ्यकर्मियों ने सबसे आगे रहकर लड़ाई की है. पिछले करीब डेढ़ साल से देश के हर हिस्से में स्वास्थ्यकर्मी अपने काम में लगे हुए हैं, कई बार उनके साथ बदतमीजी की खबरें भी आईं लेकिन वो अपने मिशन में डटे रहे. अब इसी बीच लद्दाख से एक ऐसी तस्वीर सामने आई है, जिसने ट्विटर पर धमाल मचा दिया है. 

लद्दाख में डॉक्टरों का एक ग्रुप जेसीबी में बैठकर नदी को पार कर रहा है, क्योंकि लद्दाख के ग्रामीण इलाके में जाने का कोई और रास्ता नहीं था. ऐसे में पीपीई किट पहने हुए डॉक्टर्स जेसीबी में बैठकर ही चल पड़े. 

लद्दाख के सांसद सेरिंग नामग्याल ने ट्विटर पर इस तस्वीर को साझा किया है, जिसमें चार हेल्थवर्कर्स जेसीबी के आगे के हिस्से में बैठे हुए हैं. 


बीजेपी सांसद ने इस तस्वीर को साझा करते हुए लिखा कि हमारे कोविड वॉरियर्स को सलाम. कोविड वॉरियर्स की एक टीम रूरल लद्दाख में जाने के लिए इस तरह नदी पार कर रही है. सभी घरों में रहें, सुरक्षित रहें और कोविड वॉरियर्स का सहयोग करें.

ये तस्वीर अब सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बन गई है और हर कोई कोविड वॉरियर्स की तारीफ कर रहा है. बता दें कि पिछले डेढ़ साल में ऐसी कई तस्वीरें देखने को मिली हैं, जहां स्वास्थ्यकर्मियों ने अपनी परवाह किए बगैर लोगों के इलाज में खुद को झोंक दिया. 

बता दें कि कोरोना की दूसरी लहर का असर अब कम होने लगा है, ऐसे में लद्दाख में भी कुछ केस कम होने लगे हैं. लद्दाख में अभी 1011 एक्टिव केस हैं, जबकि यहां पर कोविड की वजह से अबतक 195 लोगों की जान चली गई है. 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें