scorecardresearch
 

IND vs SA, 3rd Test: 2007 में भारत ने दिया था ऐसा ही टारगेट, तब बाजी मार ले गई थी SA टीम

भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट मैच नाजुक मोड़ पर पहुंच गया है. भारत ने साउथ अफ्रीका को 212 रनों का टारगेट दिया है. जवाब में मेजबान टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 101 रन बना लिए थे.

Smith-Gibbs (AFP) Smith-Gibbs (AFP)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केपटाउन टेस्ट मैच रोमांचक मोड़ पर 
  • भारत को जीत के लिए आठ विकेट की दरकार 

IND vs SA, 3rd Test: भारत और साउथ अफ्रीका के बीच तीसरा टेस्ट मैच नाजुक मोड़ पर पहुंच गया है. भारत ने साउथ अफ्रीका को 212 रनों का टारगेट दिया है. जवाब में मेजबान टीम ने तीसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 101 रन बना लिए थे. अब खेल के चौथे दिन भारत को इतिहास रचने के लिए आठ विकेट चटकाने होंगे.

हालांकि केपटाउन के न्यूलैंड्स ग्रांउड पर भारत का रिकॉर्ड अच्छा नहीं रहा है और वह अबतक जीत से दूर रही है. साल 2007 में इसी मैदान पर साउथ अफ्रीका और भारत के बीच ऐसा ही रोमांचक मुकाबला खेला गया था. उस मुकाबले में भारत ने साउथ अफ्रीका को 211 रनों का टारगेट दिया था. लेकिन ग्रीएम स्मिथ की अगुवाई में अफ्रीकी टीम ने पांच विकेट खोकर उस टारगेट को हासिल कर लिया.

द्रविड़ की कप्तानी वाली भारतीय टीम ने उस मुकाबले में  वसीम जाफर के शतकीय पारी की बदौलत पहली पारी में 414 रन बनाए थे. इसके बाद भारतीय गेंदबाजों ने उम्दा प्रदर्शन करते हुए मेजबान टीम को 373 रनों से हराकर 41 रनों की बढ़त ले ली थी. दूसरी पारी में भारतीय बल्लेबाज उम्मीदों पर नहीं खरे उतर पाए और 169 रन बनाकर पूरी टीम ऑलआउट हो गई. साउथ अफ्रीका ने पांचवें दिन निर्धारित लक्ष्य को हासिल कर लिया.

केपटाउन में सबसे बड़ा रन चेज करने का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलियाई टीम के नाम पर है. मार्च 2006 में कंगारू टीम ने छह विकेट पर 334 रन बनाकर टारगेट हासिल कर लिया था. इस सूची में दूसरे नंबर पर साउथ अफ्रीकी टीम है. नवंबर 2011 में अफ्रीकी टीम ने दो विकेट पर 236 रन बनाकर ऑस्ट्रेलियाई टीम को मात दे दी थी.

केप टाउन में सबसे सफल रन चेज:

334/6 ऑस्ट्रेलिया vs साउथ अफ्रीका, 2002
236/2 साउथ अफ्रीका vs ऑस्ट्रेलिया, 2011
211/5 साउथ अफ्रीका vs भारत, 2007

 
 

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें
ऐप में खोलें×