scorecardresearch
 

विचार एवं विश्लेषण

महाराष्ट्र में शिवसेना ने बीजेपी को मुंबई के मुद्दे पर घेरने का बनाया प्लान.

हिंदुत्व पर घिरी शिवसेना ने चला 'मुंबई' दांव, 1985 में भी बना था 'ब्रह्मास्त्र'

17 मई 2022

मराठी भाषियों के हक की बात पर बनी शिवसेना के लिए भी 'मुंबई' मुद्दा कई बार काम आया. 1978 से 1985 तक जब शिवसेना लगातार चुनाव हार रही थी, तब 1985 के बीएमसी चुनाव के पहले तत्कालीन कांग्रेसी मुख्यमंत्री वसंत दादा पाटिल ने किसी भाषण में कहा कि मुंबई को महाराष्ट्र से तोड़ने की कोशिश हो रही है. शिवसेना ने इसी मुद्दे पर बीएमसी का चुनाव लड़ा. इस चुनाव ने शिवसेना को मुंबई की सत्ता तो दिलवा ही दी, साथ ही राजनीतिक पुर्नजन्म भी दे दिया.

सद्गुरु, ईशा फाउंडेशन

किसानों को प्रोत्साहन के तीन चरण और थमेगा मिट्टी का क्षरण

13 मई 2022

हर देश 3% जैविक तत्व को एक न्यूनतम औसत निर्धारित कर सकता है और किसानों को वहां पहुंचने की आकांक्षा करने के लिए आकर्षक प्रोत्साहन दे सकता है. उद्योग और बिजनेस, किसानों के लिए द्वितीय स्तर के प्रोत्साहन के रूप में कार्बन क्रेडिट प्रणाली लागू कर सकते हैं.

संतूर वादक पंडित शिव कुमार शर्मा का 84 साल की उम्र में निधन हो गया.

पंडित शिवकुमार शर्माः सो गया संतूर को शास्त्रीय बनाने वाला महान साधक

10 मई 2022

भारत की महान शास्त्रीय संगीत परंपरा में संतूर एक अभिन्न अंग है लेकिन इस लोक वाद्ययंत्र को शास्त्रीय परंपरा के एक अहम वाद्य के रूप में स्थापित करने का श्रेय पंडित शिवकुमार शर्मा (Pandit Shivkumar Sharma) को जाता है.

विचार एवं विश्लेषण: चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर पर लेख

Politics का MBA: राजनीति के अखाड़े में प्रशांत किशोर होने के मायने

05 मई 2022

प्रशांत किशोर अभी तक राजनीति के अखाड़े से बाहर खड़े होकर दांव लगाते थे. लेकिन अब उन्होंने अखाड़े की चौहद्दी पर नारियल फोड़ दिया है और मिट्टी उठा ली है.

योगी 2.0: अब दिखने लगे हैं भविष्य की राजनीति के कई अहम संकेत

04 मई 2022

सीएम योगी का दूसरा कार्यकाल शुरू हो चुका है. लेकिन अपने पहले कार्यकाल और उससे भी पहले की छवि से निकलकर योगी अब एक ज़्यादा वृहद् दायरे की राजनीति को साधते और बढ़ते प्रशासक के तौर पर नज़र आ रहे हैं.

शिवसेना के सामने नई चुनौतियां

राज, राणा, राणे, रनौत... बीजेपी के नए-नए तीर, शिवसेना के लिए चुनौती गंभीर!

28 अप्रैल 2022

महाराष्ट्र में शिवसेना के सामने कई चुनौतियां खड़ी हो गई हैं. पहले तो सिर्फ बीजेपी से चुनौती मिल रही थी, लेकिन अब सियासी पिच पर कई नए किरदार खड़े हो गए हैं. ये नए किरदार ही पार्टी के लिए सिरदर्दी बन रहे हैं.

प्रशांत किशोर कांग्रेस में नहीं होंगे शामिल

कांग्रेस कथा: दर्द है, दवा भी है... फिर क्यों दिल नहीं है?

26 अप्रैल 2022

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने कांग्रेस में शामिल होने से इनकार कर दिया है. उन्होंने खुद इसकी जानकारी एक ट्वीट के जरिए दी. वहीं, कांग्रेस ने भी बताया कि प्रशांत किशोर ने कांग्रेस के ऑफर को ठुकरा दिया है और वो पार्टी में नहीं शामिल हो रहे हैं.

प्रशांत शाही लिखते हैं कि वामपंथी संगठन कावेरी छात्रावास के गेट पर जमा हो गए और आयोजकों को धमकाने लगे.

जेएनयू में भारतीय उत्सव और वामपंथ की दिक्कत! पक्ष

15 अप्रैल 2022

रामनवमी पूजा के बाद जेएनयू में वामपंथी संगठनों ने उन छात्रों को निशाना बनाना शुरू कर दिया जो एबीवीपी के कार्यकर्ता या हमदर्द हैं. उन्होंने छात्राओं या दिव्यांग छात्रों को भी जाने नहीं दिया.

10 अप्रैल रामनवमी के दिन जेएनयू में पथराव और तोड़फोड़ की घटना हुई थी.

संघ की राजनीति का अभिन्न अंग है हिंसा, JNU में भी यही हुआ! विपक्ष

15 अप्रैल 2022

एबीवीपी एक कहानी गढ़ रही है कि लेफ्ट से जुड़े छात्रों ने पूजा में बाधा डाली. यह सच्चाई से कोसों दूर है. एबीवीपी अभी तक इस दावे के समर्थन में एक भी सबूत पेश नहीं कर पाई है.

सद्गुरु, ईशा फाउंडेशन

'65 की उम्र में 30 हजार KM मोटरसाइकिल यात्रा कोई जॉयराइड नहीं'

13 अप्रैल 2022

लोगों की एक पीढ़ी के रूप में हमने इस धरती से सबसे बड़ा निवाला खा लिया है. अभी, हम उस बच्चे की मिट्टी को खत्म कर दे रहे हैं, जिसे जन्म लेना बाकी है. मेरे लिए, एक अजन्मे बच्चे के भोजन को खाना, मानवता के प्रति अपराध जैसा महसूस होता है. हमें इसे पलटना होगा.

राज ठाकरे अब ‘लाउडस्पीकर’ के सहारे!

राजनीति में बेचारे हुए राज ठाकरे अब ‘लाउडस्पीकर’ के सहारे!

11 अप्रैल 2022

महाराष्ट्र की राजनीति में 'लाउडस्पीकर' सबसे बड़ा मुद्दा बन गया है. इस मुद्दे के केंद्र में खड़े हैं नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे. अब इस मुद्दे को उठाना उनकी राजनीतिक मजबूरी है या फिर वे किसी दूसरी रणनीति पर काम कर रहे हैं, आइए जानते हैं-

PM मोदी से पवार की मुलाकात के मायने.

PM मोदी से पवार की मुलाकात से उपजे सवाल और उनके जवाब में छिपे सियासी संदेश

07 अप्रैल 2022

साल 2019 के नवंबर में 20 तारीख को शरद पवार संसद में प्रधानमंत्री मोदी अचानक मिले थे. तब भी अटकलों का बाजार काफी गर्म था. लेकिन उसके बाद जो महाराष्ट्र में हुआ, उसने राजनीतिक जगत में सबको हैरान कर दिया.

क्या महाराष्ट्र में गुजरात का प्रयोग दोहरा रही है बीजेपी?

ठाकरे परिवार पर निशाना! क्या महाराष्ट्र में गुजरात का प्रयोग दोहरा रही है बीजेपी?

31 मार्च 2022

1990 तक महाराष्ट्र की तरह गुजरात में भी बीजेपी तीसरे नंबर की पार्टी थी. गुजरात में कांग्रेस और गैर-कांग्रेसी दबदबे के बीच बीजेपी नई और उभरती पार्टी रही. बीजेपी या जनसंघ का गुजरात में अभी अस्तित्व खत्म हो गया था लेकिन ऐसा भी नहीं था कि पार्टी अपने दम पर सरकार बना पाए.

ओवैसी के ऑफर पर हलचल

AIMIM का प्रस्ताव और कांग्रेस-शिवसेना में हलचल

23 मार्च 2022

शिवसेना के मुखपत्र सामना के संपादकीय में बीजेपी के खिलाफ बाकी पार्टियों से एकसाथ आने की अपील की गई थी. सवाल उठता है कि अगर ऐसा गठजोड़ बनाना है तो क्या शिवसेना AIMIM के इस प्रस्ताव को स्वीकारेगी? जब सिर्फ BJP को सत्ता से दूर रखने के लिए शिवसेना ने महाराष्ट्र में कांग्रेस से हाथ मिला लिया तो AIMIM से परहेज क्यों?

सद्गुरु, ईशा फाउंडेशन

महाशिवरात्रि - जागृति की एक रात

01 मार्च 2022

महाशिवरात्रि पर, धरती के उत्तरी गोलार्ध की स्थिति ऐसी होती है कि वहां पर किसी इंसान में ऊर्जा का एक स्वाभाविक उफान आता है. इस दिन प्रकृति इंसान को उसके आध्यात्मिक शिखर की ओर धकेलती है. इस परंपरा में, इस रात का लाभ उठाने के लिए हमने एक उत्सव स्थापित किया जो रात भर चलता है.

सद्गुरु

भक्ति- जीवन की मधुरता का अनुभव

11 फरवरी 2022

Sadhguru article: अगर आप जागरूक और सचेतन हैं कि आपसे कहीं अधिक विशाल कोई चीज अभी कार्य कर रही है तो आप स्वाभाविक रूप से भक्त हैं. जब आप जागरूक हैं कि आपसे कहीं अधिक विशाल कोई चीज अभी आपके चारों ओर कार्य कर रही है तो कोई दूसरा तरीका नहीं है, आप भक्त होंगे.

File Pic

शिवसेना-बीजेपी 25 साल का रिश्ता, किसका फायदा-किसका नुकसान?

25 जनवरी 2022

25 साल राजनीति में बहुत बड़ा वक्त होता है. देश में शायद ही ऐसा कोई उदाहरण होगा जहां दो पार्टियां 25 साल तक चुनाव साथ में लड़ें. इसमें दो राय नहीं कि महाराष्ट्र में कांग्रेस का दबदबा शिवसेना-बीजेपी के साथ आने की वजह से ही घटा.

पुलिस कांस्टेबल राकेश राणा, जिन्हें कर दिया गया था सस्पेंड.

एमपी पुलिस ने मान ली 'मूंछ' की महिमा....और बच गया राणा का 'रौब'

11 जनवरी 2022

हिंदुस्तान के साथ ही दुनियाभर में मूंछों को आन बान शान से जोड़ा जाता रहा है. मूंछें हमेशा मर्दों की पहचान रही हैं. बीते दिनों मध्य प्रदेश में मूंछों की वजह से एक पुलिस कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया गया तो खबर सुर्खियों में आ गई. मामला मूंछों का था तो हवा और तेज हो गई. अंतत: कांस्टेबल को बहाल कर दिया गया.

अल्लू अर्जुन, जॉन अब्राहम

साउथ सिनेमा के आगे धूल चाट रहा बॉलीवुड, क्या है इसका कारण?

08 जनवरी 2022

बॉलीवुड अगर तीसरे नंबर पर आ गया है तो इसके पीछे की वजह समझना बहुत जरूरी है, चलिए दिमाग के सारे घोड़े दौड़ा लीजिए और याद करके बताइए कि आखिरी बार बॉलीवुड की बायोपिक या रीमेक को छोड़कर आपने कौन सी अच्छी हिंदी फिल्म देखी है? तो बॉलीवुड की मीनारों और मेहराबों को एक दफे नाप लीजिए. 

 हना ने बताया कि इस तरह चार बार महिलाओं को निशाना बनाया गया

'ऐप पर मेरी ऑनलाइन बोली लग रही थी, तस्वीर देखकर डर गई थी', Sulli Deals पीड़िता का दर्द

04 जनवरी 2022

मुझे नहीं पता “sulli” का क्या मतलब है. मुझे इतना पता था कि यह कुछ गंदा है. मैंने अपने एक दोस्त से पूछा. उसने बताया कि यह मुस्लिम महिलाओं को दी जाने वाली गाली है. मैंने यह सिर्फ जानकारी के लिए पूछा था, लेकिन अब डर के साये में जी रही थी.

उद्धव ठाकरे की सेहत और राजनीति

उद्धव ठाकरे की सेहत और राजनीति

26 दिसंबर 2021

आदित्य ठाकरे ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि उद्धव मुख्यमंत्री के तौर पर काम कर रहे हैं. लेकिन मुख्यमंत्री का डेढ़ महीने से किसी खुले कार्यक्रम में ना दिखना अटकलों का बाजार गर्म कर रहा है. अगर समय पर हुए तो फरवरी 2022 में महाराष्ट्र में मुंबई समेत 12 महानगर पालिकाओं के चुनाव होने हैं.