scorecardresearch
 

Jharkhand Unlock: 9वीं से 12वीं तक ऑफलाइन क्लॉस को मंजूरी, वीकेंड लॉकडाउन भी हटा

सबसे बड़ा फैसला ये लिया गया है कि अब झारखंड में 9वीं से 12वीं तक के स्कूलों के लिए ऑफलाइन क्लासेस की अनुमति दे दी गई है. कहा गया है कि  स्कूलों को दोपहर 12 बजे तक खुले रखने के अनुमति रहेगी.

झारखंड में रियायतों का दौर ( पीटीआई) झारखंड में रियायतों का दौर ( पीटीआई)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • झारखंड में रियायतों का दौर
  • स्कूल खुले,शादियों में मेहमान बढ़े

झारखंड में अनलॉक प्रक्रिया पर तेजी से काम किया जा रहा है. कोरोना के कहर के बाद अब फिर लोगों के लिए रियायतों का दौर शुरू हो गया है. इसी कड़ी में शुक्रवार को सीएम की अध्यक्षता में राज्य सरकार की आपदा प्रबंधन प्राधिकार की बैठक में लॉकडाउन को लेकर महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं.

झारखंड में रियायतों का दौर

सबसे बड़ा फैसला ये लिया गया है कि अब झारखंड में 9वीं से 12वीं तक के स्कूलों के लिए ऑफलाइन क्लासेस की अनुमति दे दी गई है. कहा गया है कि  स्कूलों को दोपहर 12 बजे तक खुले रखने के अनुमति रहेगी. वहीं कोचिंग सेंटर को लेकर कहा गया है कि अभिभावकों की मंजूरी के बाद ही शैक्षणिक कोचिंग सेंटर को खोलने की अनुमति मिलेगी. आदेश में ये भी स्पष्ट कर दिया गया है कि टीकाकरण के बाद ही कोचिंग सेंटर खोले जा सकेंगे. वैसे अब राज्य में वीकेंड लॉकडाउन को भी ख़त्म कर दिया गया है, ऐसे में रियायतें और ज्यादा मिलने जा रही हैं.

स्कूल खुले,शादियों में मेहमान बढ़े

इस बार सरकार की तरफ से शादी समारोह को लेकर भी बड़ा ऐलान किया गया है. अब शादी समारोह में 100 लोगों के शामिल होने की अनुमति दी गई है. ऐसे में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ मेहमानों की संख्या में बढोतरी की गई है. इसके अलावा अब से सरकारी कार्यालयों में भी 100% उपस्थिति जरुरी कर दी गई है. 

रेस्टोरेंट को राहत

झारखंड सरकार ने अब रेस्टोरेंट्स को भी राहत दी है. आदेश के मुताबिक रात 10 बजे तक होटल और रेस्टोरेंट खुले रहेंगे. वहीं राज्य भर में रविवार को महत्वपूर्ण दुकानें भी रात 10 बजे तक खुली रहेंगी. आदेश में ये भी कहा गया है कि अब से झारखंड में राज्य से बाहर बसों के परिचालन को भी हरी झंडी रहेगी. ऐसे में राज्य सरकार की तरफ से फिर जिंदगी को पटरी पर लाने की कोशिश की जा रही है.

झारखंड के कोरोना मीटर की बात करें तो 24 घंटे में सिर्फ एक शख्स ने जान गंवाई है, वहीं मामले भी सिर्फ 27 दर्ज किए गए हैं. पिछले कई दिनों से झारखंड में यही ट्रेंड देखने को मिल रहा है जिस वजह से अब सरकार ने भी रियायत देना शुरू कर दिया है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें