scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: बंगाल चुनाव से जोड़कर वायरल शाह-ममता की ये तस्वीर है महीनों पुरानी

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर जमकर वायरल हो रही है. तस्वीर में देखा जा सकता है अमित शाह के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और एक अन्य व्यक्ति खाने की टेबल पर बैठे हैं.

वायरल तस्वीर वायरल तस्वीर

पश्चिम बंगाल में 2021 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर हलचल तेज हो गई है. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी कुछ दिनों पहले पश्चिम बंगाल का दौरा किया था और इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी सरकार पर निशाना साधा था. इसी के बाद से सोशल मीडिया पर एक तस्वीर जमकर वायरल हो रही है. तस्वीर में देखा जा सकता है अमित शाह के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक और एक अन्य व्यक्ति खाने की टेबल पर बैठे हैं.

पोस्ट में ऐसा दर्शाने की कोशिश की गई है कि ममता बनर्जी और अमित शाह की बंगाल चुनाव को लेकर मीटिंग हुई है और दोनों मिले हुए हैं. सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि बेवजह असदुद्दीन ओवैसी को बीजेपी का एजेंट बोला जाता है लेकिन तस्वीर में देखा जा सकता है कि बीजेपी के साथ कौन मिला हुआ है. बता दें कि AIMIM अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी पर अप्रत्यक्ष रूप से बीजेपी से मिले होने का आरोप लगता रहता है.  

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि पोस्ट में कही जा रही बात पूरी तरह से सही नहीं है. ये तस्वीर कई महीने पुरानी है. इसे फरवरी में भुवनेश्वर में हुई ईस्टर्न जोनल कॉउंसिल मीटिंग के बाद खींचा गया था जब नवीन पटनायक ने अपने निवास पर लंच का कार्यक्रम रखा था.

तस्वीर को शेयर करते हुए लोग कैप्शन में लिख रहे हैं, "ब्रेक फास्ट पे बंगाल चुनाव पर चर्चा. लेकिन अंधे ओवैसी को ही बोलेंगे एजेंट... यह कौन बीजेपी का एजेंट है आपको समय आता होगा देखो जो बैठा हुआ खाना खा रहे हो कौन है समझने का वक्त है भाई यह सब एक ही लोग हैं यह सब को बेवकूफ बना रहे हैं बोलते ओवैसी बीजेपी का एजेंट है पहले देखो तब बोलो".

इसी तरह की पोस्ट फेसबुक पर काफी लोग शेयर कर चुके हैं. वायरल पोस्ट का आर्काइव यहां देखा जा सकता है.

क्या है सच्चाई?

तस्वीर को रिवर्स सर्च करने पर हमें इससे जुड़ी कई रिपोर्ट्स मिलीं. खबरों के मुताबिक, 28 फरवरी 2020 को ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर में ईस्टर्न जोनल कॉउंसिल की 24वीं मीटिंग हुई थी. ये मीटिंग भारत के पूर्वी राज्यों (बिहार, पश्चिम बंगाल, ओडिशा और झारखंड) के मुद्दों को लेकर होती है. इस साल ये मीटिंग गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई थी जिसमें नीतीश कुमार, ममता बनर्जी, नवीन पटनायक सहित पूर्वी राज्यों के प्रमुख लोग शामिल हुए थे. मीटिंग के बाद नवीन पटनायक ने अपने घर पर लंच रखा था जिस दौरान ये तस्वीर खींची गई थी. इससे पहले ये मीटिंग 2018 में कोलकाता में हुई थी. वायरल तस्वीर को नवीन पटनायक ने भी ट्वीट किया था.

तस्वीर को लेकर उस समय भी आरोप-प्रत्यारोप लगाए गए थे क्योंकि खाने की टेबल पर एक दूसरे के कट्टर प्रतिद्वंद्वी माने जाने वाले अमित शाह और ममता बनर्जी साथ बैठे थे.

इंडिया टुडे इस बात की पुष्टि नहीं कर सकता कि मुलाकात के दौरान बंगाल चुनाव को लेकर कोई चर्चा हुई थी या नहीं. लेकिन ये स्पष्ट है कि तस्वीर हाल-फिलहाल की नहीं बल्कि महीनों पुरानी है. इसके अलावा, अमित शाह और ममता बनर्जी की ये मुलाकात एक आधिकारिक मीटिंग के बाद हुई थी.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

ममता बनर्जी और अमित शाह की बंगाल चुनाव को लेकर मीटिंग हुई है और दोनों मिले हुए हैं.

निष्कर्ष

ये तस्वीर कई महीने पुरानी है. इसे फरवरी 2020 में भुवनेश्वर में हुई ईस्टर्न जोनल कॉउंसिल मीटिंग के बाद खींचा गया था जब नवीन पटनायक ने अपने निवास पर लंच का कार्यक्रम रखा था.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें