scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर उनकी फोटो को केक खिला रहे ये व्यक्ति अखिलेश नहीं

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव का 22 नवंबर को 83वां जन्मदिन था. इसी से जोड़ते हुए सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें समाजवादी टोपी पहने एक आदमी मुलायम सिंह यादव की तस्वीर को कुछ खिलाते हुए नजर आ रहा है.

वायरल तस्वीर वायरल तस्वीर

समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव का 22 नवंबर को 83वां जन्मदिन था. इसी से जोड़ते हुए सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रही है जिसमें समाजवादी टोपी पहने एक आदमी मुलायम सिंह यादव की तस्वीर को कुछ खिलाते हुए नजर आ रहा है. दावा किया जा रहा है कि ये मुलायम के बेटे अखिलेश यादव हैं जो अपने पिताजी के जीवित होने के बावजूद उनकी तस्वीर को मिठाई खिला रहे हैं. लोग तंज कस रहे हैं कि अखिलेश मुलायम की फोटो को इस तरह मिठाई या केक खिला रहे हैं जैसे उनकी मृत्यु हो गई हो.

एक ट्विटर यूजर ने फोटो के साथ कैप्शन में लिखा है, "ओह, अखिलेश अभी से अभ्यास कर रहे वह भी बिना मालार्पण किये ..जनता जानती है पहले सार्वजनिक रुप से मंच पर बेइज्जती कर घक्का मुक्की कर मंच से फेक दिया था. सत्ता लोभ जो करवाए कम है."

क्या है सच्चाई?

इंडिया टुडे एंटी फेक न्यूज (AFWA) ने पाया कि तस्वीर के साथ किया जा रहा दावा भ्रामक है. वायरल फोटो में दिख रहा शख्स अखिलेश यादव नहीं बल्कि समाजवादी पार्टी का एक कार्यकर्ता है. तस्वीर मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन के मौके पर लखनऊ में ली गई थी.

गौरतलब है कि साल 2016 में समाजवादी पार्टी के टूटने की नोबत आ गई थी जब अखिलेश यादव की मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल के साथ तनातनी हो गई थी. एक सार्वजनिक बैठक में मुलायम सिंह यादव के सामने अखिलेश और शिवपाल यादव के बीच धक्का-मुक्की भी हो गई थी. अंतर्कलह इतनी बढ़ चुकी थी कि दिसंबर 2016 में मुलायम सिंह यादव ने अखिलेश यादव को पार्टी से निकाल तक दिया था. इसी को आधार बनाकर सोशल मीडिया पर ये फोटो काफी वायरल हो रही है.

कैसे पता की सच्चाई?

वायरल तस्वीर को रिवर्स सर्च करने पर हमें न्यूज एजेंसी ANI का 22 नंवबर 2021 का एक ट्वीट मिला जिसमें यह फोटो मौजूद है. ट्वीट में लिखा है कि मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर कार्यकर्ताओं ने लखनऊ स्थित पार्टी ऑफिस में हवन किया और केक काटा.

इसी से मिलती-जुलती कुछ तस्वीरें हमें मनीष यादव नाम के एक सपा कार्यकर्ता की ट्विटर प्रोफाइल पर भी मिलीं. तस्वीरों में सपा कार्यकर्ताओं को धूमधाम से मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन मनाते देखा जा सकता है.

हमें सपा कार्यकर्ता मनीष यादव की फेसबुक प्रोफाइल भी मिली जिसके जरिए हमारी उनसे फोन पर बात हुई. मनीष ने हमें बताया कि वायरल तस्वीर में 'नेताजी' की फोटो को केक खिला रहा व्यक्ति वो ही हैं, न कि अखिलेश यादव. मनीष का कहना था "मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन पर उनकी दीर्घायु और अच्छे स्वास्थ्य के लिए हमनें हवन किया गया था. चूंकि मुलायम सिंह जैसे बड़े नेता को बुलाकर उन्हें मिठाई खिलाना मुश्किल है, इसलिए उनकी फोटो हमने हवन में रखी थी."

इसके साथ ही हमें यह भी पता चला कि सोमवार को मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन लखनऊ के सपा मुख्यालय में मनाया गया था. इस दौरान अखिलेश यादव और पार्टी के कई नेता मौजूद थे. समारोह की तस्वीरें अखिलेश यादव ने ट्वीट भी की थीं. इनमें से एक तस्वीर में अखिलेश अपने पिता मुलायम सिंह यादव को खुद केक खिलाते हुए नजर आ रहे हैं.

कुल मिलाकर निष्कर्ष यह निकलता है कि तस्वीर के साथ गलत जानकारी दी गई है जिससे भ्रम फैल रहा है. मुलायम सिंह यादव की फोटो को केक खिला रहे एक सपा कार्यकर्ता की फोटो के जरिए अखिलेश यादव पर निशाना साधा जा रहा है.

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

ये तस्वीर मुलायम सिंह यादव के बेटे अखिलेश यादव की हैं जो अपने पिताजी के जीवित होने के बावजूद भी उनके जन्मदिन पर उनकी तस्वीर को मिठाई खिला रहे हैं.

निष्कर्ष

फोटो में दिख रहा शख्स अखिलेश यादव नहीं बल्कि समाजवादी पार्टी का एक कार्यकर्ता है. तस्वीर सोमवार को मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन के मौके पर लखनऊ में ली गई थी.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें