scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: क्या बीजेपी छोड़ने वाले हैं ज्योतिरादित्य सिंधिया?

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि ज्योतिरादित्य सिंधिया भाजपा छोड़कर कांग्रेस में घर वापसी करने की तैयारी में हैं. इस दावे में कितनी सच्चाई है....जानने के लिए पढ़िए पूरी खबर.

ज्योतिरादित्य सिंधिया (File Photo- PTI) ज्योतिरादित्य सिंधिया (File Photo- PTI)

क्या भाजपा जॉइन करने के दो महीने बाद ही ज्योतिरादित्य सिंधिया कांग्रेस में 'घर वापसी' की योजना बना रहे हैं? सोशल मीडिया पर तो ऐसा ही दावा किया जा रहा है. ट्विटर पर “India TV” (@IndiaTVPoll) नाम के एक ट्विटर हैंडल से यह दावा किया जा रहा है. इस ट्विटर हैंडल की प्रोफाइल फोटो में इस्तेमाल किया गया लोगो न्यूज चैनल “India TV” के लोगो जैसा ही है.

इस ट्वीट में लिखा गया है, “सूत्रों के हवाले से खबर- भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया सोमवार तक भाजपा छोड़ने की तैयारी में, बोले- " मंत्री बनाओ या परिणाम भुगतने को तैयार रहें शिवराज, इनके कारण इज्जत भी गई और कुछ मिला भी नहीं, मामा और मोदी ने मिलकर फंसाया.

thumbnail_thumbnail_1_051720040136.png

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे इस ट्वीट का आर्काइव्ड वर्जन यहां देखा जा सकता है.

स्टोरी लिखे जाने तक इस ट्वीट को 11,000 से ज्यादा यूजर्स ने लाइक किया है और 2700 से ज्यादा बार इसे रीट्वीट किया गया है. सोशल मीडिया यूजर समझ रहे हैं कि यह ट्वीट न्यूज चैनल “इंडिया टीवी” का है. इसे फेसबुक पर भी बहुत से लोग शेयर कर रहे हैं.

thumbnail_thumbnail_2_051720040301.jpg

इंडिया टुडे के एंटी फेक न्यूज वॉर रूम (AFWA) ने पाया कि जिस ट्विटर हैंडल से यह ट्वीट किया गया है, वह न्यूज चैनल “इंडिया टीवी” का आधिकारिक ट्विटर हैंडल नहीं है. दरअसल, इस हैंडल के परिचय में स्पष्ट रूप से यह लिखा गया है कि यह एक पैरोडी अकाउंट है. इसकी प्रोफाइल फोटो में भी इंडिया टीवी के लोगो के साथ “फर्जी” लिखा हुआ है.

thumbnail_thumbnail_3_051720040352.png

न्यूज चैनल “India TV” का असली अकाउंट ट्विटर की ओर से प्रमाणित (verified) है और उसकी प्रोफाइल फोटो इससे अलग है.

सिंधिया और बीजेपी

ज्योतिरादित्य सिंधिया के ​पर्सनल असिस्टेंट पुरुषोत्तम पराशर ने AFWA को बताया कि वायरल ट्वीट फर्जी है और इस तरह के कई आर्टिकल सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं.

thumbnail_thumbnail_4_051720040454.png

पराशर ने हमें कुछ अखबारों की क्लिपिंग भेजीं, जिसमें दावा किया गया है कि सिंधिया और भाजपा के बीच सब ठीक नहीं है. पराशर ने कहा कि ये खबरें निराधार हैं. इन्हें कांग्रेस ने छपवाया और प्रसारित किया है.

सिंधिया ने बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा की उपस्थिति में 11 मार्च को बीजेपी जॉइन की थी. मध्य प्रदेश के गुना से सांसद सिंधिया इसके पहले 18 साल तक कांग्रेस में रहे और पार्टी में उपजे मतभेदों के चलते कांग्रेस छोड़कर बीजेपी जॉइन कर ली थी.

सिंधिया के विद्रोह के चलते मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार गिर गई थी, क्योंकि उनके समर्थक करीब दो दर्जन विधायकों ने कमलनाथ सरकार से इस्तीफा दे दिया था. इस घटनाक्रम के बाद बीजेपी फिर से सत्ता में आ गई और शिवराज सिंह चौहान फिर से मुख्यमंत्री बन गए.

ग्वालियर के शाही परिवार से ताल्लुक रखने वाले ​ज्योतिरादित्य सिंधिया कभी राहुल गांधी के करीबी सहयोगी थे. कांग्रेस पार्टी छोड़ते हुए उन्होंने कहा कि अब कांग्रेस वह पार्टी नहीं है, जो कभी हुआ करती थी और और कांग्रेस में उनके सपने टूट गए थे.

सोशल मीडिया पर किया जा रहा यह दावा गलत है कि सिंधिया मध्य प्रदेश सरकार की कैबिनेट में जगह नहीं मिलने से नाराज हैं और बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में लौटना चाहते हैं.

फैक्ट चेक

सोशल मीडया यूजर्स

दावा

ट्विटर हैंडल “India TV” के मुताबिक ज्योतिरादित्य सिंधिया बीजेपी छोड़ने वाले हैं.

निष्कर्ष

जिस ट्विटर ने यह दावा किया है वह एक पैरोडी अकाउंट है, जिसका नाम और लोगो “India TV” न्यूज चैनल से मिलता जुलता है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें