scorecardresearch
 

फैक्ट चेक: राजस्थान में इंदिरा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने की घटना गुजरात की बताकर की जा रही है शेयर

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने की फोटो गुजरात की बताकर सोशल मीडिया पर शेयर की जा रही है. इसे शेयर कर गुजरात की भाजपा सरकार पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं, लेकिन सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा फोटो गुजरात का नहीं है. फोटो की सच्चाई जानने के लिए पढ़िए रिपोर्ट...

X
सोशल मीडिया पर इस फोटो को गुजरात का बताकर शेयर किया जा रहा है. सोशल मीडिया पर इस फोटो को गुजरात का बताकर शेयर किया जा रहा है.

राजनीति में अकसर प्रतिमाओं का इस्तेमाल अपनी पार्टी के प्रभाव को दर्शाने के लिए किया जाता है. कई बार ऐसी प्रतिमाओं को तोड़कर विवाद भी खड़े किए जाते हैं. पिछले कुछ दिनों से देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की एक टूटी हुई प्रतिमा की तस्वीर सोशल मीडिया पर ये कहते हुए शेयर की जा रही है कि ये घटना बीजेपी शासित राज्य गुजरात की है. 

कांग्रेस नेता और महाराष्ट्र के विधायक नितिन राउत ने ट्विटर पर इंदिरा गांधी की टूटी हुई प्रतिमा की तस्वीर को शेयर करते हुए लिखा, 'आप इंदिरा गांधी की प्रतिमा तोड़ सकते हैं, उनके विचार नहीं. फोटो पीएम नरेंद्र मोदी जी के गुजरात से आई है.' 

अमेरिका

इंडिया टुडे फैक्ट चेक टीम ने पाया कि इंदिरा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने की घटना बीजेपी शासित राज्य गुजरात की नहीं बल्कि कांग्रेस शासित राज्य राजस्थान के झंझुनू जिले की है. 

कैसे पता लगाई सच्चाई?

कीवर्ड्स सर्च के जरिए हमें कुछ मीडिया रिपोर्ट्स मिलीं जिनके मुताबिक इंदिरा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने की ये घटना राजस्थान के झुंझनू जिले के पिलानी इलाके के कजारा गांव में 17 सितंबर की रात को हुई है. 

हमें ‘न्यूज 24’ की एक वीडियो रिपोर्ट भी मिली जिसके मुताबिक कुछ असामाजिक तत्वों ने इस प्रतिमा को तोड़ दिया जिसके बाद मौके पर पुलिस भी पहुंची. 

हमने पिलानी थाने के इंचार्ज रणजीत सिंह सेवदा से भी बात की. उन्होंने बताया कि इस मूर्ति को तोड़ने से पहले वॉट्सएप पर स्टेटस अपडेट करके इसका ऐलान किया गया था. ये ऐलान करने वाले शख्स को गुजरात के बड़ौदा से गिरफ्तार कर लिया गया है. 

जानकारी के मुताबिक ये प्रतिमा गांव के इंदिरा गांधी पार्क में 32 साल पहले लगाई गई थी जिसकी अब प्रशासन ने मरम्मत करा दी है. 


(रिपोर्ट: सुमित कुमार दुबे)

फैक्ट चेक

सोशल मीडिया यूजर्स

दावा

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने की ये फोटो गुजरात की है.

निष्कर्ष

इंदिरा गांधी की प्रतिमा को तोड़ने की ये घटना गुजरात की नहीं बल्कि राजस्थान के झुंझनू जिले के कजारा गांव की है.

झूठ बोले कौआ काटे

जितने कौवे उतनी बड़ी झूठ

  • कौआ: आधा सच
  • कौवे: ज्यादातर झूठ
  • कौवे: पूरी तरह गलत
सोशल मीडिया यूजर्स
क्या आपको लगता है कोई मैसैज झूठा ?
सच जानने के लिए उसे हमारे नंबर 73 7000 7000 पर भेजें.
आप हमें factcheck@intoday.com पर ईमेल भी कर सकते हैं
आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें