scorecardresearch
 

भजन सम्राट नरेंद्र चंचल के निधन पर पीएम मोदी-लता मंगेशकर ने जताया दुख

पंजाबी पॉप सिंगिंग के बादशाह दलेर मेहंदी ने ट्वीट कर कहा, "दिल को बहुत दुख हुआ कि आइकॉनिक और लोकप्रिय सिंगर नरेंद्र चंचल जी इस दुनिया को छोड़कर विदा हो गए. उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं."

नरेंद्र चंचल नरेंद्र चंचल

भजन गायक नरेंद्र चंचल का शुक्रवार को दिल्ली के अपोलो अस्पताल में निधन हो गया है. 'चलो बुलावा आया है' और 'ओ जंगल के राजा मेरी मैया को लेके आजा' जैसे लोकप्रिय भजनों को अपनी आवाज देने वाले नरेंद्र की उम्र 80 साल थी. बीते काफी समय से वह बीमार चल रहे थे और उनका हॉस्पिटल में इलाज चल रहा था. नरेंद्र के निधन पर उनके फैन्स और शुभचिंतकों में शोक का माहौल है. सोशल मीडिया पर देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, दिग्गज गायिका लता मंगेशकर और दलेर मेहंदी समेत तमाम सेलेब्रिटीज ने शोक व्यक्त किया है.

पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा, "लोकप्रिय भजन गायक नरेंद्र चंचल जी के निधन के समाचार से अत्यंत दुख हुआ है. उन्होंने भजन गायन की दुनिया में अपनी ओजपूर्ण आवाज से विशिष्ट पहचान बनाई. शोक की इस घड़ी में मेरी संवेदनाएं उनके परिजनों और प्रशंसकों के साथ हैं. ओम् शांति." उधर दिग्गज गायिका लता मंगेशकर ने ट्वीट किया, "मुझे अभी पता चला कि बहुत गुणी गायक, मातारानी के भक्त नरेंद्र चंचल जी का आज स्वर्गवास हुआ. ये सुनके मुझे बहुत दुख हुआ.वो बहुत अच्छे इंसान थे,ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करें. मैं उनको विनम्र श्रद्धांजली अर्पण करती हूं."

पंजाबी पॉप सिंगिंग के बादशाह दलेर मेहंदी ने ट्वीट कर कहा, "दिल को बहुत दुख हुआ कि आइकॉनिक और लोकप्रिय सिंगर नरेंद्र चंचल जी इस दुनिया को छोड़कर विदा हो गए. उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना करता हूं. उनके परिवार और फैन्स को मेरी सांत्वनाएं."

दिग्गज क्रिकेटर हरभजन सिंह ने भी ट्वीट किया, "नरेंद्र चंचल जी के परलोक सिधार जाने की खबर सुनकर बहुत आहत हूं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति दे."

इसी तरह नरेंद्र चंचल के ढेरों फैन्स और उनके फॉलोअर्स उनके लिए ट्वीट या सोशल मीडिया पोस्ट करके उनकी आत्मा की शांति की कामना कर रहे हैं. बता दें कि नरेंद्र चंचल में माता के भजनों को लेकर रुचि इसलिए बढ़ी क्योंकि उनहोंने बचपन से ही अपनी मां को मातारानी के भजन गाते सुना था. यही वजह थी कि नरेंद्र अपनी पहली गुरु अपनी मां को माना करते थे. इसके बाद चंचल ने प्रेम त्रिखा से संगीत सीखा, फिर वह भजन गाने लगे थे.

वायरल हुआ था कोरोना भजन
बीते साल कोविड के दौर में कोविड को लेकर ढेरों गाने बने थे जो कि सोशल मीडिया पर वायरल हुई. इसी तरह पैनडेमिक के इस दौर में नरेंद्र चंचल ने भी कोरोना को लेकर एक गाना गाया था. ये गाना भी सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था. माता वैष्णो देवी को लेकर नरेंद्र की बहुत आस्था थी. वह 1944 से लगातार हर साल माता वैष्णो देवी के दरबार में आयोजित होने वाली वार्षिक जागरण में जाया करते थे.

देखें: आजतक LIVE TV

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें