scorecardresearch
 

महाजनपदों का उदय

बुद्ध के जन्म के पूर्व छठी शताब्दी ई. पूर्व में भारत 16 जनपदो में बंटा हुआ था. ये जानकारी हमें बौद्धग्रंध अंगुत्तर निकाय से मिलती है.

प्राचीन भारत के 16 महाजनपद प्राचीन भारत के 16 महाजनपद

बुद्ध के जन्म के पूर्व छठी शताब्दी ई. पूर्व में भारत 16 जनपदो में बंटा हुआ था. ये जानकारी हमें बौद्धग्रंध अंगुत्तर निकाय से मिलती है.

 

 

महाजनपद

    राजधानी

     क्षेत्र (आधुनिक स्‍थान)

1

अंग

चंपा

भागलपुर, मुंगेर (बिहार)

2

मगध

गिरिब्रज / राजगृह

पटना, गया (बिहार)

3

अवन्ति

उज्‍जैन / महिष्‍मती

मालवा (मध्‍य प्रदेश)

4

कंबोज

हाटक

राजोरी और हजारा क्षेत्र (उत्तर प्रदेश)

5

काशी

वाराणसी

वाराणसी के आस-पास (उत्तर प्रदेश)

6

कुरू

इंद्रप्रस्‍थ

आधुनिक दिल्‍ली, मेरठ और हरियाणा के कुछ क्षेत्र

7

कोसल

श्रावस्‍ती

फैजाबाद (उत्तर प्रदेश)

8

गांधार

तक्षशिला

रावलपिंडी और पेशावर (पाकिस्‍तान)

9

चेदि

शक्तिमती

बुंदेलखंड (उत्तर प्रदेश)

10

वज्जि

वैशाली / विदेह / मिथिला

मुजफ्फरपुर और दरभंगा के आस-पास का क्षेत्र

11

वत्स

कौशांबी

इलाहाबाद के आस-पास (उत्तर प्रदेश)

12

पांचाल

अहिच्‍छत्र,  काम्पिल्‍य

बरेली, बदायूं, फर्रूखाबाद (उत्तर प्रदेश)

13

मत्स्य

विराटनगर

जयपुर (राजस्‍थान) के आस-पास का क्षेत्र

14

मल्ल

कुशावती

देवरिया (उत्तर प्रदेश)

15

शूरसेन

मथुरा

मथुरा (उत्तर प्रदेश)

16

अश्‍मक

पोटली/पोतन

गोदावरी नदी क्षेत्र


आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें