scorecardresearch
 

DU Admission: दूसरी कट ऑफ में भर सकती हैं 40 हजार तक सीटें, एडमिशन कैंसिलेेशन की दर भी कम

DU Admission 2021: डीयू एडमिशन प्रक्र‍िया में जिस तेजी से एडमिशन हो रहे हैं और रद्द कराने की दर घटी है, इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि इस साल तीसरी कट ऑफ तक ज्यादातर कॉलेजों के पॉपुलर कोर्सेज की सीटें फुल हो जाएंगी. 

प्रतीकात्मक फोटो (Getty) प्रतीकात्मक फोटो (Getty)

DU Admission 2021: दिल्ली यूनिवर्सिटी में इस साल दूसरी कट ऑफ में ही यूजी कोर्सेज की आधी से ज्यादा सीटें फुल हो सकती हैं. अब तक के आंकड़ों और अनुमान के अनुसार डीयू में यूजी की कुल 70 हजार सीटों में से 40 हजार से अधिक सीटें भर सकती हैं. डीयू की ओर से सोमवार को जारी आंकड़ों के मुताबिक दूसरी कट ऑफ के पहले दिन ही 2103 छात्रों ने फीस का भुगतान करके दाखिला ले लिया हैं, वहीं जबकि अभी दूसरी कट ऑफ के दाखिले के दो दिन बाकी है. 

दूसरी और पहली कट ऑफ को मिलाकर अब तक 38, 233 उम्मीदवार दाखिले ले चुके हैं. डीयू की दाख‍िला समित‍ि की ओर से जारी आंकड़ों के अनुसार पहली कट ऑफ में कुल 36,130 छात्रों ने दाखिला लिया था. वहीं सोमवार को दूसरी कट ऑफ के दाखिले की प्रक्र‍िया शुरू की गई, इसमें पहले ही दिन विभिन्न कोर्सेस के लिए कुल 29, 086 छात्रों ने आवेदन किया. देर रात तक कॉलेजों ने 2593 दाखिलों को मंजूरी दे दी थी. वहीं 2103 ने कोर्स की फीस का भुगतान करके अपना एडमिशन कन्फर्म कर लिया. फिलहाल अभी दूसरी कट ऑफ में रद्द किए गए दाखिलों की संख्या आध‍िकारिक रूप से जारी नहीं की गई है.  

वहीं, अगर इस साल का ट्रेंड देखें तो डीयू में स्नातक कोर्सेज में बीते साल के मुकाबले इस बार दाखिला रद्द कराने की दर बहुत कम है. इस साल पहले दिन कॉलेजों में चार से लेकर 45 तक दाखिले रद्द कराए गए. जिस तेजी से एडमिशन हो रहे हैं और रद्द कराने की दर घटी है, इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि इस साल तीसरी कट ऑफ तक ज्यादातर कॉलेजों के पॉपुलर कोर्सेज की सीटें फुल हो जाएंगी. 

शनिवार को जारी दूसरी कट ऑफ में गिरावट की बात करें तो यह अंतर बहुत मामूली है. इसमें 0.25 फीसदी से लेकर तीन फीसदी तक गिरावट हुई है. वहीं पहली कट ऑफ में ही डीयू की आधी से अधिक सीटें भर गई थीं. ऐसे में कॉलेजों की दूसरी कट ऑफ में छात्रों के पास सीमित विकल्प हैं. कई कॉलेज प्रिंसिपल मानकर चल रहे हैं कि उनके यहां कुछ कोर्सेज के दाखिले तो दूसरी कट ऑफ में ही बंद हो जाएंगे.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें