scorecardresearch
 

स्टार्क ने छोड़ी 'मांकड़िंग', फैन के निशाने पर आए अश्विन- तो मिला ये जवाब

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरे वनडे मैच में भरपूर ड्रामा देखने को मिला. एक तो मैक्सवेल और कैरी ने शानदार शतक लगाकर इंग्लैंड से जीत छीन ली. साथ ही स्टार्क से जुड़ा मामला भी वायरल हो गया.

Mitchell Starc tells Adil Rashid to stay in his crease Mitchell Starc tells Adil Rashid to stay in his crease
स्टोरी हाइलाइट्स
  • इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया मैच के दौरान स्टार्क ने मांकड़िंग नहीं की
  • स्टार्क ने आदिल राशिद को गेंद फेंकने से पहले क्रीज छोड़ने पर चेतावनी दी
  • इससे जुड़ी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है

इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरे वनडे मैच के दौरान भरपूर ड्रामा देखने को मिला. एक तो ग्लेन मैक्सवेल और एलेक्स कैरी ने शानदार शतक लगाकर इंग्लैंड से जीत छीन ली. साथ ही स्टार्क से जुड़ा मामला भी वायरल हो गया. बुधवार को मैनचेस्टर वनडे तीन विकेट से जीतकर ऑस्ट्रेलिया ने सीरीज पर 2-1 से कब्जा कर लिया. 303 रनों का पीछा करते हुए ऑस्ट्रेलिया ने एक समय 73 रनों पर 5 विकेट गंवा दिए थे.

इस मैच के दौरान एक ऐसा वाकया देखने को मिला, जिससे जुड़ी तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है. दरअसल, ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिशेल स्टार्क ने आदिल राशिद को गेंद फेंकने से पहले क्रीज छोड़ने पर चेतावनी दी थी. 

सोशल मीडिया पर वायरल हुई तस्वीर को एक यूजर ने भारतीय ऑफ स्पिनर आर अश्विन को टैग किया और उनसे इस तरीके से खेलने को कहा. उस प्रशंसक ने ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड मैच की उस तस्वीर को साझा करते हुए लिखा, 'कृपया कुछ सीखें @ ashwinravi99. इस तरह खेला जाता है.' 

ऐसा पहली बार नहीं, जब किसी प्रशंसक ने अश्विन की खेल भावना पर सवाल उठाया है. अश्विन ने फैन को इस अंदाज में जवाब दिया, 'मैं अच्छी लड़ाई लड़ने में विश्वास करता हूं... प्रतीक्षा करें, मैं इस पर वापस आऊंगा.'

दरअसल, आईपीएल के 12वें सीजन के चौथे मैच के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब के कप्तान अश्विन गेंदबाजी कर रहे थे और जोस बटलर गेंदबाजी वाले छोर पर थे. अश्विन ने गेंद फेंकने से पहले देखा कि बटलर क्रीज से बाहर हैं और उन्होंने गिल्लियां बिखेर दीं. और तब से मांकड़िंग को लेकर बहस होती रहती है. मांकड़िंग का सबसे मशहूर उदाहरण वीनू माकंड़ द्वारा ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज बिल ब्राउन को रन आउट करना है. यह घटना 1947 में हुई थी.
 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें