scorecardresearch
 

324 साल पुरानी किताब में मिले दूसरी दुनिया के सबूत! क्या वहां Aliens थे?

इंग्लैंड में 324 साल पुरानी एक दुर्लभ किताब मिली है. इस किताब में शनि और बृहस्पति पर दूसरी दुनिया होने की बात कही गई है. किताब जल्द ही नीलामी में बेची जाएगी. कीमत हैरान कर देगी.

X
यह किताब 324 साल पुरानी है (Photo: Hansons content) यह किताब 324 साल पुरानी है (Photo: Hansons content)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • किताब जल्द ही नीलामी में बेची जाएगी
  • कीमत 1.94 से 2.91 लाख रुपये हो सकती है

इंग्लैंड (England) में 17वीं शताब्दी में लिखी गई एक दुर्लभ किताब (Rare Book) मिली है. इसमें शनि और बृहस्पति पर दूसरी दुनिया होने की बात कही गई है. इस किताब में लिखी बातों पर शायद ही कोई भरोसा करे लेकिन 324 साल पहले लिखी गई इस किताब पर एलियंस और दूसरी दुनिया को मानने वाले यकीन कर सकते हैं. किताब जल्द ही नीलामी में बेची जाएगी.

यह किताब 1698 में डच गणितज्ञ, भौतिक विज्ञानी, खगोलशास्त्री क्रिस्टियान ह्यूजेंस (Christiaan Huygens) ने लिखी थी. उन्होंने सवाल किया था कि क्या ईश्वर बाकी ग्रहों को सिर्फ पृथ्वी से देखे जाने के लिए बनाएगा? उनका कहना था कि इसका कोई न कोई उद्देश्य ज़रूर होना चाहिए और वह उद्देश्य है जीवन.

दूसरी दुनिया के बारे में बहुत कुछ बताया गया है

किताब का मूल्यांकन करने वाले जिम स्पेंसर (Jim Spencer) का कहना है कि पुस्तक में यह बताने की कोशिश की गई है कि दूसरी दुनिया के लोग कैसे दिखते होंगे, वे अपना समय कैसे बिताते होंगे. यहां तक ​​​​कि उनका संगीत कैसा लगता होगा.

उन्होंने कहा कि यह मजाक लगता है, लेकिन इसे वैज्ञानिक तर्कों से जोड़कर बताया गया है. और कौन जानता है कि इस मामले पर हमारे अपने विचार, 324 साल पहले के लोगों को कैसे दिखाई देते होंगे.

Rare book found
जल्द ही किताब की नीलामी की जाएगी (Photo: Hansons-content)

संगीत के शौकीन होंगे दूसरी दुनिया के लोग

किताब में लिखा गया है कि दूसरी दुनिया के ये जीव किसी को भी पकड़ सकते हैं, कुछ भी फेंक सकते हैं, यहां तक ​​​​कि जमीन से छोटी से छोटी चीज भी ले सकते हैं. उनके पैर अजीब हैं. कहीं- कहीं तो वे उड़ना भी जानते हैं.

ह्यूजेन्स ने लिखा है कि वे स्पष्ट रूप से काफी बुद्धिमान हैं. वे खगोलविद या मास्टर नेविगेटर हो सकते हैं. खासकर बृहस्पति और शनि पर. वे समाज में रहते हैं और समाजिक सुखों का भी आनंद लेते होंगे- जैसे बातचीत, प्रेम, हास्य. वे भी हमारी तरह संगीत का आनंद लेते हैं और वे संगीत वाद्ययंत्र भी जरूर बजाते होंगे. अपनी किताब में उन्होंने यह भी लिखा है कि बृहस्पति और शनि के लोगों को दुर्भाग्य, युद्ध, कष्ट, गरीबी का सामना करना पड़ेगा.

 

जिम स्पेंसर के मुताबिक यह किताब अलग है, जो वास्तव में इस दुनिया से बाहर की बात करती है. यह किताब 5 जुलाई को स्टैफोर्डशायर में हैन्सन्स लाइब्रेरी (Hansons Library) की नीलामी में बेची जाने वाली है. इसकी कीमत करीब 2,500 से 3,750 डॉलर्स यानी 1.94 से 2.91 लाख रुपये हो सकती है.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें