scorecardresearch
 
साइंस न्यूज़

अगर धरती के सारे लोग एकसाथ समुद्र में बैठ जाएं तो क्या सुनामी आएगी?

everyone on earth sat in ocean
  • 1/10

क्या होगा अगर दुनिया पर मौजूद सारे इंसान एक साथ समुद्र में बैठ जाएं या कूद जाएं. तो क्या सुनामी आएगी. या फिर कुछ द्वीप डूब जाएंगे. क्या पानी का स्तर बढ़ेगा. या समुद्र को कोई असर नहीं होगा. असर तो पड़ेगा...ये सच है. कितना ये तो धरती की आबादी के हिसाब से जोड़कर बताना पड़ेगा. आइए जानने की कोशिश करते हैं कि अगर ऐसा हो तो समुद्र का पानी कितना बढ़ेगा. बाथटब के छोटे से उदाहरण से समुद्र तक की गणित समझने की कोशिश करते हैं. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 2/10

जब आप पानी के टब में कूदते हैं तो उससे अंदर मौजूद पानी का एक बड़ा हिस्सा बाहर निकल जाता है. इसे कहते हैं डिस्प्लेसमेंट (Displacement) यानी विस्थापन. आसान भाषा में कहे तो आपके शरीर का आकार, वजन पानी को ढकेलता है. क्योंकि बाथटब का आधार और किनारे मजबूत और सॉलिड होते हैं. पानी ऊपर की ओर भागता है. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 3/10

जितना आपके शरीर का वजन होता है लगभग उतना ही पानी टब से निकल कर बाहर चला जाता है. अब आप ये सोचिए कि अगर बाथटब आधा भरा हो तो क्या होगा. मान लेते हैं कि बाथटब एक लंबा बक्सा है. जब आप उसमें बैठते हैं तो आपको ये पता चल जाता है कि कितना पानी उसमें ऊपर की ओर बढ़ा. यानी जलस्तर ऊपर उठा. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 4/10

बाथटब अगर पांच फीट लंबा और 2 फीट चौड़ा है तो उसका क्षेत्रफल होगा 10 वर्ग फीट. अब आपके शरीर का वॉल्यूम नापते हैं. मान लेते हैं कि आप 4 फीट लंबे, 2 फीटे चौड़े (बाएं से दाएं) और एक फीट गहरे (आगे से पीछे की ओर) हैं. तो आपके शरीर का वॉल्यूम होगा 4x2x1 यानी 8 क्यूबिक फीट. आसान भाषा में 8 घन फीट. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 5/10

जब आप बाथटब में बैठते हैं तब आप अपने शरीर का लगभग आधा वॉल्यूम बाथटब में डालते हैं. इसका मतलब ये हैं कि जितना पानी बाथटब में ऊपर की ओर बढ़ा वो आपके शरीर के वॉल्यूम का आधा है. जब आप 4 क्यूबिक फीट को 10 वर्ग फीट से डिवाइड करेंगे तो ये करीब 5 इंच के बराबर आएगा. यानी बाथटब में पानी का स्तर पांच इंच ऊपर गया. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 6/10

हमारी धरती के समुद्र विशालकाय बाथटब ही तो हैं. धरती के 70 फीसदी हिस्से पर सिर्फ सागर हैं. ये करीब 36.25 करोड़ वर्ग किलोमीटर में फैले हैं. अब अगर धरती के सारे लोग समुद्र में एक साथ कूद जाएं तो उसके जलस्तर में कितनी बढ़ोतरी होगी. बड़ा सवाल है. देखते हैं इसका जवाब क्या होगा? (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 7/10

इस समय धरती पर करीब 800 करोड़ लोग रहते हैं. अब दिक्कत ये है कि सारे इंसान एक आकार के नहीं होते. इसलिए हम औसत आकार 5 फीट का मानकर चलते हैं. यानी औसत वॉल्यूम हुआ 10 क्यूबिक फीट. जब लोग समुद्र में एकसाथ बैठेंगे तो उनके शरीर का आधा हिस्सा ही पानी के अंदर जाएगा. इसलिए 5 क्यूबिक फीट के हिसाब से समुद्र में वॉल्यूम जुड़ेगा. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 8/10

अब अगर 800 करोड़ लोग एक साथ समुद्र में बैठेंगे तो इसे 5 से गुणा कर दीजिए. तो सभी लोगों का वॉल्यूम हो जाएगा 4000 करोड़ क्यूबिक फीट. यानी आप 36.2 करोड़ वर्ग किलोमीटर में फैले समुद्र में 4000 करोड़ क्यूबिक फीट का वॉल्यूम जोड़ेंगे. अब जानते है कि इससे समुद्र के पानी का स्तर कितना बढ़ेगा? (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 9/10

इसका जवाब ये है कि जब दुनिया के सारे इंसान एकसाथ अगर समंदर में बैठेंगे तो उसका जलस्तर 0.00012 इंच ऊपर उठेगा. यानी इंसान के बाल के व्यास का आधा. अगर सारे लोग गोता लगा लेंगे तब जाकर समुद्र के पानी का स्तर 0.00024 इंच ऊपर उठेगा. यानी इंसान के बाल के बराबर. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)

everyone on earth sat in ocean
  • 10/10

इसका मतलब ये है कि सारे इंसान मिलकर भी समंदर में बाल भी बांका नहीं कर सकते. ये सिर्फ बाल्टी में एक बूंद पानी के बराबर की हरकत होगी. लेकिन इससे आपको अंदाजा लग जाएगा कि हमारे समंदर कितने बड़े हैं. क्योंकि इनकी वजह से हमारी धरती नीले रंग खूबसूरती से ढकी रहती है. (प्रतीकात्मक फोटोःगेटी)