scorecardresearch
 

Tauktae का असर: स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास बने केवड़िया रेलवे स्टेशन की छत उड़ी, देखें Video

वीडियो में नजर आ रहा है कि केवड़िया स्टेशन की छत कई जगहों पर टूट गई है.  केवड़िया देश का पहला ग्रीन बिल्डिंग सर्टिफिकेट वाला रेलवे स्टेशन है. जब इस स्टेशन का लोकार्पण किया गया था तो बताया गया था कि यह स्टेशन आधुनिक यात्री सुविधाओं से लैस बनाया गया है.

गुजरात में केवड़िया रेलवे स्टेशन की छत भी क्षतिग्रस्त हो गई है. गुजरात में केवड़िया रेलवे स्टेशन की छत भी क्षतिग्रस्त हो गई है.
स्टोरी हाइलाइट्स
  • केवड़िया रेलवे स्टेशन की छत उड़ी
  • स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास स्थित है ये स्टेशन
  • केवड़िया देश का पहला GBC वाला स्टेशन

गुजरात में चक्रवाती तूफान तौकते की दस्तक से पहले ही यहां इसका असर दिखने लगा है. तेज हवाओं के चलते हाल ही में नर्मदा में बने केवड़िया रेलवे स्टेशन की छत क्षतिग्रस्त हो गई है. हाल ही में शुरू किया गया यह रेलवे स्टेशन तेज हवाओंं के सामने कमजोर होता साबित हो रहा है. स्टेशन के क्षतिग्रस्त होने का वीडियो भी सामने आया है.

वीडियो में नजर आ रहा है कि केवड़िया स्टेशन की छत कई जगहों पर टूट गई है.  केवड़िया देश का पहला ग्रीन बिल्डिंग सर्टिफिकेट वाला रेलवे स्टेशन है. जब इस स्टेशन का लोकार्पण किया गया था तो बताया गया था कि यह स्टेशन आधुनिक यात्री सुविधाओं से लैस बनाया गया है. गुजरात के केवड़िया में ही 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' स्थित है. यहां पर्यटन को बढ़ावा देने के मकसद से इस स्टेशन की शुरुआत की गई थी. लेकिन अब तूफान के बीच इस स्टेशन की निर्माण कितनी  मजबूती से हुआ है, इस बात पर सवाल उठ रहे हैं. 

बता दें कि गुजरात के कच्छ में तूफान से तबाही की आशंका को देखते हुए प्रशासन अलर्ट पर है. साथ ही तटीय इलाकों के मछुआरों को सुरक्षित स्थानों पर शिफ्ट किया गया है. मौसम विभाग के मुताबिक गुजरात में तूफान के पहुंचने के दौरान 155 से 165 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं. तूफान के मद्देनजर सूरत एयरपोर्ट को शाम 6 बजे तक के लिए बंद कर दिया गया है.

 

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें