scorecardresearch
 

कोरोना पर काबू, 11 जून से फिर खुलने को तैयार गुजरात, मिलेंगी ये रियायतें

गुजरात में छोटी दुकानें, हेयर कटिंग सैलून मार्केट, ब्यूटी पार्लर और अन्य व्यापारिक संस्थान सुबह 9:00 बजे से लेकर शाम 7:00 बजे तक खुले रह पाएंगे. वहीं राज्य के सभी धार्मिक स्थानों को दर्शन के लिए अब खोला जा पाएगा

गुजरात में शुरू हो रही अनलॉक की प्रक्रिया ( फोटो-पीटीआई, सांकेतिक) गुजरात में शुरू हो रही अनलॉक की प्रक्रिया ( फोटो-पीटीआई, सांकेतिक)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • फिर खुलने को तैयार गुजरात
  • मिलेंगी कई सारी रियायतें
  • 11 जून से लागू हो जाएंगी ये रियायतें

गुजरात में कोरोना की स्थिति अब काफी बेहतर दिखाई पड़ रही है. बढ़ते मामलों पर भी रोक लग चुकी है और मरने वालों की संख्या भी काफी कम है. ऐसे में दूसरे राज्यों की ही तरह गुजरात भी अनलॉक प्रक्रिया में प्रवेश कर रहा है. अब वहां भी रियायतों का दौर शुरू होने जा रहा है. रुपाणी सरकार ने ऐलान कर दिया है कि 11 जून से लोगों को लॉकडाउन में काफी ढील दे दी जाएगी.

फिर खुलने को तैयार गुजरात

जानकारी मिली है कि छोटी दुकान, हेयर कटिंग सलून मार्केट, ब्यूटी पार्लर और अन्य व्यापारिक संस्थान सुबह 9:00 बजे से लेकर शाम 7:00 बजे तक खुले रह पाएंगे. वहीं राज्य के सभी धार्मिक स्थानों को दर्शन के लिए अब खोला जा सकेगा, जिसमें एक साथ 50 से अधिक लोगों को मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा और तमाम गाइलाइन्स का भी पालन अनिवार्य रहेगा. इसके अलावा रेस्टोरेंट्स को लेकर भी महत्वपूर्ण ऐलान कर दिया गया है. बताया गया है कि रेस्टोरेंट और होटल का वक्त सुबह 9:00 बजे से 7:00 बजे तक रहेगा जिसमें 50% कैपेसिटी के साथ रेस्टोरेंट में बैठा कर खाना खिलाया जा सकता है. तो वहीं होम डिलीवरी रात को 12:00 बजे तक चालू रहेने वाली है.

क्या बंद क्या खुला?

राज्य सरकार अब लोगों की आवाजाही को भी आसान करने जा रही है. बसों में ट्रैवल को लेकर भी राहत देने वाले ऐलान किए गए हैं. जानकारी दी गई है कि शहर में चलने वाली बस सर्विस को अब उसकी कैपेसिटी के 60% पैसेंजर के साथ चलने की इजाजत रहेगी. वही राज्य में राजनीतिक या फिर सामाजिक कार्य यानी बेसना, प्रार्थना सभा, सांस्कृतिक कार्यक्रम जिसमें 50 लोगों को अब बुलाया जा पाएगा. जिम जाने वालों को भी राहत दी गई है.

अब 50 प्रतिशत कैपेसिटी के साथ जिम को भी खुला रखा जाएगा, लेकिन उन्हें कोरोना के लिए बनी SOP का पालन करना जरूरी रहेगा. छात्रों के लिए लाइब्रेरी को भी  50% की कैपेसिटी के साथ खुला रखा जाएगा. वहीं बगीचे  सुबह 6:00 बजे से लेकर शाम 7:00 बजे तक खुले रहेंगे. बता दें कि सरकार की तरफ से ये रियायत 11 जून से मिलने जा रही हैं. जैसे-जैसे कोरोना के मामले और कम होते जाएंगे, रियायतों का ये दौर भी उतना ही बढ़ता जाएगा.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें