scorecardresearch
 

कोरोना के कहर के बीच मोदी सरकार का फैसला, रेमडेसिविर इंजेक्शन के निर्यात पर लगाई रोक

सरकार का कहना है कि आने वाले दिनों में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग में बढ़ोतरी होने की संभावना है. वहीं डिपार्टमेंट ऑफ फार्मास्युटिकल्स, घरेलू निर्माताओं के साथ संपर्क में है जिससे कि रेमडेसिविर के उत्पादन को तेजी से बढ़ावा दिया जा सके. 

रेमडेसिविर इंजेक्शन के निर्यात पर रोक (सांकेतिक तस्वीर) रेमडेसिविर इंजेक्शन के निर्यात पर रोक (सांकेतिक तस्वीर)
स्टोरी हाइलाइट्स
  • देश में आज 1.52 लाख से ज्यादा नए केस सामने आए
  • स्थिति सामान्य होने तक रेमडेसिविर के निर्यात पर रोक

देश में जहां एक तरफ बढ़ते कोरोना से लोग भयभीत हैं तो वहीं दूसरी तरफ बढ़ते संक्रमण के मामले को देखते हुए भारत सरकार ने रेमडेसिविर  (Remdesivir) इंजेक्शन के निर्यात पर रोक लगा दी है. बता दें कि इस इंजेक्शन का इस्तेमाल हल्के लक्षण वाले मरीजों के लिए किया जाता है. बताया जा रहा है कि कोरोना के मामले अचानक से बढ़ने से इंजेक्शन के स्टॉक में भारी कमी आ गई है जिसके कारण सरकार ने यह फैसला लिया है.

इस मामले में सरकार का कहना है कि आने वाले दिनों में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग में बढ़ोतरी होने की संभावना है. वहीं डिपार्टमेंट ऑफ फार्मास्युटिकल्स घरेलू निर्माताओं के साथ संपर्क में है जिससे कि रेमडेसिविर के उत्पादन को तेजी से बढ़ावा दिया जा सके.

कुल सक्रिय मामले 11,08,087
बता दें कि देश में रविवार को कोरोना के 1,52,879 नए मामले सामने आए जबकि पिछले 24 घंटे में 839 मौतें हुई हैं. देश में कुल सक्रिय मामले बढ़कर 11,08,087 हो गए हैं. हालांकि अभी तक 1,20,81,443 मरीज इस वायरस से ठीक भी हो चुके हैं. कोरोना से मौत का आंकड़ा बढ़कर 1,69,275 हो गया है जबकि कुल कोरोना मामलों की संख्या बढ़कर 1,33,58,805 हो गई है.

कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान
देशभर में कोरोना वायरस के खिलाफ टीकाकरण अभियान जारी है. अभी तक 10,15,95,147 टीके लग चुके हैं. पिछले 24 घंटे में 35,19,987 खुराकें दी गई हैं. सबसे ज्यादा टीके महाराष्ट्र में लगे हैं, यहां 99,23,534 खुराकें दी जा चुकी है. इसके बाद राजस्थान में 95,65,308 टीके लगे हैं. वहीं गुजरात में 90,56,842 टीके लगे हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें